प्रधानमंत्री मोदी ने किया ICC के विशेष कार्यक्रम को संबोधित, कहा- ‘मुसीबत की दवाई मजबूती है’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 11 जून को इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स (Indian Chamber of Commerce) के विशेष कार्यक्रम को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत बांग्ला में की।

PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 11 जून को इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स (Indian Chamber of Commerce) के विशेष कार्यक्रम को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत बांग्ला में की। कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा, “ICC ने 1925 में अपने गठन के बाद से आजादी की लड़ाई को देखा है, भीषण अकाल और अन्न संकटों को देखा है। अब इस बार की ये AGM एक ऐसे समय में हो रही है, जब हमारा देश मल्टिपल चैलेंजों को चैलेंज कर रहा है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने इस दौरान कहा कि 95 साल से ICC देश की सेवा कर रहा है। पीएम बोले कि आज के वक्त में देश का आत्मनिर्भर होना जरूरी है, दूसरे देशों पर अपनी निर्भरता कम करनी होगी।

COVID-19: भारत में कोरोना से मौत के आंकड़ों ने तोड़ा रिकॉर्ड, संक्रमितों की संख्या पहुंची 2 लाख 86 हजार के पार

प्रधानमंत्री ने कहा, “आत्मनिर्भर भारत, आत्मनिर्भरता का ये भाव बरसों से हर भारतीय ने एक एस्पिरेशन की तरह जिया है। लेकिन फिर भी एक बड़ा काश, एक बड़ा काश, हर भारतीय के मन में रहा है, मस्तिष्क में रहा है। भारत कोरोना से लड़ रहा है, लेकिन अन्य तरह के संकट भी खड़े हैं। कहीं बाढ़, कहीं टिड्डों की समस्या, कहीं तेल क्षेत्र में आग तो कहीं भूकंप और 2 साइक्लोन। संकट के दौरान नए अवसर भी सामने आते हैं। ये हमारी संकल्पशक्ति, हमारी स्ट्रेंथ है। मुसीबत की दवाई मजबूती है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत बड़े रिफॉर्म का ऐलान किया गया, अब उन्हें जमीन पर उतारा जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि आज कोई भी कंपनी सीधे पीएमओ तक अपने सामान या प्रपोजल को पहुंचा सकते हैं, लोगों को GEM से जुड़ना होगा ताकि देसी कंपनियों का सामान सरकार भी खरीदे।

फांसी के वक्त रोते बेटे से मां ने कहा, जिसके नाम से ब्रिटिश सरकार भय से कांप उठती है, वो मौत से कैसे डर सकता है?

संबोधन में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि लोकल प्रोडक्ट के लिए क्लस्टर के आधार पर मजबूती दी जा रही है। नॉर्थ ईस्ट को ऑर्गेनिक खेती का हब बनाए जाने की कोशिश है, ICC ठान ले तो इसकी ग्लोबल पहचान बना सकते हैं।

उन्होंने कहा, “बीते 5-6 वर्षों में, देश की नीति और रीति में भारत की आत्मनिर्भरता का लक्ष्य सर्वोपरि रहा है। अब कोरोना संकट ने हमें इसकी गति और तेज करने का सबक दिया है। हर वो चीज, जिसे आयात करने के लिए देश मजबूर हैं, वो भारत में ही कैसे बने, भविष्य में उन्हीं का भारत निर्यात कैसे बने, इस दिशा में हमें और तेजी से काम करना है।”

कश्मीर में सफाई अभियान जारी, शोपियां में फिर 5 आतंकी को मार गिराया, 4 दिनों में 14 आतंकी ढेर

कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा, “कोलकाता फिर से एक बहुत बड़ा लीडर बन सकता है। भविष्य में ईस्ट इंडिया का नेतृत्व कर सकता है। व्हाट बंगाल थिंक टुडे, इंडिया थिंक टुमारो।” प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि 5 साल बाद आपकी संस्था अपने सौ साल पूरे कर लेगी, 2022 में देश की आजादी के 75 साल पूरे होने जा रहे हैं। ऐसे में हर किसी के लिए यही वक्त है कि एक बड़ा संकल्प लिया जाए और आत्मनिर्भर भारत अभियान को संपूर्ण करने के लिए कुछ लक्ष्य तय किए जाएं।

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, “किसानों और ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए जो निर्णय हाल में हुए हैं, उन्होंने एग्रीकल्चर इकोनॉमी को बरसों की गुलामी से मुक्त कर दिया है। अब भारत के किसानों को अपने प्रोडक्ट, अपनी उपज देश में कहीं पर भी बेचने की आजादी मिल गई है। लोकल प्रोडक्ट्स के लिए जिस क्लस्टर बेस्ड अप्रोच को अब भारत में बढ़ावा दिया जा रहा है, उसमें भी सभी के लिए अवसर ही अवसर है। जिन जिलों, जिन ब्लॉक्स में जो पैदा होता है, वहीं आसपास इनसे जुड़े क्लस्टर विकसित किए जाएंगे।”

बड़गाम में सेना ने लश्कर के टॉप कमांडर को उसके दो साथियों के साथ घेरा, मुठभेड़ जारी

पीएम ने कहा, “LED बल्ब के इस्तेमाल से 19,000 करोड़ की बचत हुई है। गरीब और मध्यम वर्ग को फायदा हुआ है। इससे बिजली का बिल भी कम हुआ है, इसका लाभ पर्यावरण को हुआ है। 4 करोड़ सीओटू का इस्तेमाल कम हुआ है।” पीएम (PM Narendra Modi) ने आगे कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक का अभियान अब जन आंदोलन बन गया है।

बता दें कि यह कार्यक्रम ICC के 95वें वार्षिक दिवस के अवसर पर आयोजित किया गया है। कार्यक्रम कोलकाता में हो रहा है। पूर्वी तथा पूर्वोत्तर भारत में व्यापार संबंधी गतिविधियों की ओर विशेष ध्यान देने वाले इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स (ICC) का मुख्यालय कोलकाता में है। इसके अलावा नई दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, भुवनेश्वर, रांची, गुवाहाटी, सिलीगुड़ी और अगरतला में इसके क्षेत्रीय कार्यालय हैं।