सुरक्षाबलों ने फेरा नक्सलियों के मंसूबों पर पानी, लोकसभा चुनाव के दौरान हमले की कर रहे थे साजिश

छत्तीसगढ़ और झारखंड में आगामी लोकसभा चुनावों में नक्सलियों के हमले की साजिश सुरक्षाबलों ने नाकाम कर दिया है। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में सीएम भूपेश बघेल की सभा से पहले पुलिस ने एक महिला सहित तीन नक्‍सलियों को राजा बंगला इलाके से गिरफ्तार किया है। उधर, झारखंड में भी लोकसभा चुनाव के दौरान पुलिस और सुरक्षाबलों पर हमले की तैयारी कर रहे नक्सलियों के खिलाफ पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। लातेहार में नक्सलियों ने विस्फोटक, राइफल, गोली और विस्फोटक बनाने के सामान छिपा कर रखे थे। यह सब सुरक्षा बलों के हाथ लग गया।

Lok Sabha Election

सांकेतिक तस्वीर

छत्तीसगढ़ और झारखंड में आगामी लोकसभा चुनावों (Lok Sabha Election) में हमले की साजिश बना रहे नक्सलियों को सुरक्षाबलों ने धर दबोचा है। सुरक्षाबलों को सूचना मिली थी कि नक्सली छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में सीएम भूपेश बघेल की सभा के दौरान किसी वारदात को अंजाम दे सकते हैं। फिर क्या, अलर्ट सुरक्षाबलों ने मुख्यमंत्री की सभा से पहले ही एक महिला समेत तीन नक्‍सलियों को राजा बंगला इलाके से गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार किए गए नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फ़िराक़ में थे। गिरफ़्तार हुए नक्सलियों के पास से बम, ग्रेनेड, डेटोनेटर आदि बरामद हुए हैं। बताया जा रहा है कि ये सभी नक्‍सली भैरमगढ़ एरिया कमेटी के जनमिलीशिया के सदस्‍य हैं। दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कार्यक्रम होना तय था। इसके चलते शनिवार को पुलिस ने सुरक्षा कारणों से सर्च ऑपरेशन में जुटी थी।

सर्च ऑपरेशन के दौरान ही पुलिस को मुखबिर के ज़रिए सूचना मिली कि राजा बंगला इलाके में नक्‍सली मौजूद हैं। सूचना मिलते ही तत्काल सुरक्षाबल के जवान सर्च पर निकल गए। गश्‍त के दौरान जंगल में पुलिस को देख कुछ लोग छिपने लगे। उनके पीठ पर पिट्ठू और थैला मौजूद था। इसके बाद जवानों ने तत्काल घेराबंदी करके एक महिला और दो पुरूष को धर दबोचा।

यह भी पढ़ें: पुलवामा में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर के 4 आतंकी ढेर

गिरफ्त में आए नक्सलियों के पास से टिफीन बम, इलेक्‍ट्रोनिक डेटोनेटर, हैंड ग्रेनेड, जिलेटिन के रॉड समेत कई तरह और विस्फोटक बरामद हुए हैं। गिरफ्तार हुई महिला नक्सली का नाम लच्छी है जो अतरा बीजापुर मिरतुर थाना क्षेत्र के ग्राम हुर्रेपाल पुनेमपारा की रहने वाली है। वहीं भीमा कुडसोरी पटेलपारा और आयतू हुर्रेपाल का निवासी है।

ये सभी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के दौरान फोर्स को नुकसान पहुंचाने की नियत से बम लगाने आए थे, लेकिन सुरक्षाबलों ने उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया। उधर, झारखंड में भी लोकसभा चुनाव के दौरान पुलिस और सुरक्षा बलों पर हमले की तैयारी कर रहे नक्सलियों के खिलाफ पुलिस को बड़ी सफलता मिली है।

लातेहार में नक्सलियों ने विस्फोटक, राइफल, गोली और विस्फोटक बनाने के सामान छिपा कर रखे थे। जानकारी के मुताबिक, नक्सलियों ने लोकसभा चुनाव के दौरान सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के लिए 315 बोर का राइफल, करीब 300 कारतूस, 10 पैकेट जिलेटिन के साथ ही विस्फोटक बनाने के सामान छिपाकर रखे थे। ये सारा सामान पुलिस ने बरामद कर लिया है।

हर बार चुनाव करीब आते ही नक्सलियों की गतिविधियां तेज हो जाती हैं। चुनाव प्रक्रिय में बाधा पहुंचाने नक्सली हिंसा को अंजाम देने की कोशिश में लगे रहते हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए ही सुरक्षाबल मुस्तैद हैं। नतीजतन, आए दिन नक्सलियों की गिरफ्तारी हो रही है।

यह भी पढ़ें: क्यों और कैसे हो गया जम्मू-कश्मीर के बनिहाल में कार विस्फोट?

यह भी पढ़ें