पाक की नापाक साजिश का खुलासा, पुलवामा जैसे हमले के लिए ISI ने बनाई गजनवी फोर्स

ISI

पाक खुफिया एजेंसी (ISI) अब गजनवी फोर्स से हिन्दुस्तान की सेना पर पुलवामा जैसा हमला कराएगी। इसके लिए पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में ISI और पाक सेना के साथ लश्कर‚ जैश‚ हिजबुल और अलबदर आतंकी संगठन के साथ गत सप्ताह बैठक हुई और हमले की रणनीति तैयार की गई।

ISI

खुफिया सूत्रों के अनुसार अमेरिकी राष्ट्रपति ड़ोनाल्ड़ ट्रंप की भारत यात्रा पर आने के पहले पाक खुफिया एजेंसी ISI भारत में पुलवामा जैसे हमले की तैयारी कर रही है। इसके लिए उसने भारतीय सेना से मुकाबला करने के लिए गजनवी फोर्स तैयार किया है। पाक यह दिखाने की कोशिश करना चाह रहा है कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद कश्मीर का आवाम नाखुश है।

यह बात दीगर है कि भारत सरकार की आतंकवाद मुद्दे पर जीरो टॉलरेंस की नीति से सुरक्षा बलों के हौंसले बुलंद हैं और आतंकवादियों को बिल से खोज–खोज कर या तो मारा जा रहा है या फिर जिंदा पकड़े़ जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार ISI ने पाक परस्त आतंकी संगठनों पर अपना हंटर चलाना शुरू कर दिया है। इस कारण गत सप्ताह पीओके में ISI‚ सेना और आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा‚ जैश ए मोहम्मद‚ हिजबुल मुजाहिद्दीन और अलबदर के बीच बैठक हुई। इस बैठक में सेना के मेजर इकबाल हुसैन‚ जफर अली‚ सज्जाद शेख जैसे नौ सैन्य अधिकारी थे।

खुफिया सूत्रों के अनुसार इस बैठक में ही गजनवी फोर्स का गठन किया गया। इसमें इन आतंकी संगठनों के खुंखार और आत्मघाती आतंकी हैं। ये आतंकी जहां शार्प शूटर हैं वहीं ग्रेनेड़ से हमला करने‚ राकेट लांचर और बम से खासकर टाइमर बम से हमला करने के एक्सपर्ट हैं।  

सूत्रों के अनुसार ISI के फरमान के बाद लश्कर अलबदर और हिजबुल ने कश्मीर स्थित अपने लोकल आतंकी तंजिम को सक्रिय कर दिया है। वैसे कश्मीर में हिजबुल के आतंकी संगठन मजबूत हैं। सूत्रों के अनुसार बैठक में यह निर्णय लिया गया कि हमले की जिम्मेदारी हिजबुल लेगा। ये आतंकी कश्मीर में सेना और सुरक्षा जवानों को निशाना बनाने के साथ–साथ अन्य राज्यों में भी सेना और सुरक्षा बलों के कैम्पों पर हमला कर सकते हैं।

<

p style=”text-align: justify;”>सूत्रों के ISI ने पीओके में हुई बैठक में कहा है कि सभी आतंकी संगठन भारत स्थित अपने तंजिमों को एक छतरी के नीचे आने को कहें। ये तंजिम गजनवी फोर्स को हर तरह की सुविधा व अन्य सामान मुहैया कराएगा।

यह भी पढ़ें