LoC पर पाकिस्तान रच रहा नापाक साजिश, गांव खाली करवाने के बाद बढ़ाई सैनिकों की संख्या, भारतीय सेना अलर्ट

पुंछ के पास स्थित बॉर्डर पर पाकिस्तान (Pakistan) बड़ी संख्या में सेना के अतिरिक्त जवानों को तैनात कर रहा है और हथियारों की संख्या को भी बढ़ा जा रहा है।

Pakistan

भारतीय सेना अलर्ड मोड पर है। (फाइल फोटो)

जम्मू कश्मीर के पुंछ के पास स्थित बॉर्डर पर पाकिस्तान (Pakistan) बड़ी संख्या में सेना के अतिरिक्त जवानों को तैनात कर रहा है और हथियारों की संख्या को भी बढ़ा जा रहा है। संकेत साफ है कि पाकिस्तान किसी नापाक साजिश को अंजाम देने की फिराक में है।

पुंछ: भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान (Pakistan) हमेशा किसी ना किसी साजिश को रचने की कोशिश करता रहता है। उसका पूरा मकसद ये रहता है कि किस तरह भारत में शांति को प्रभावित किया जाए।

खबर मिली है कि जम्मू कश्मीर के पुंछ के पास स्थित बॉर्डर पर पाकिस्तान (Pakistan) बड़ी संख्या में सेना के अतिरिक्त जवानों को तैनात कर रहा है और हथियारों की संख्या को भी बढ़ा जा रहा है। संकेत साफ है कि पाकिस्तान किसी नापाक साजिश को अंजाम देने की फिराक में है।

पाकिस्तान की गतिविधियों को देखते हुए भारतीय सेना भी सतर्क हो गई है और बॉर्डर पर पैनी नजर बनाए हुए है। भारतीय सेना ने LoC पर अपने जवानों को दुश्मन की किसी भी नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने के निर्देश दिए हैं।

पीएम मोदी ने किया वैक्सीनेशन की नई रणनीति का ऐलान, जानें क्या हुआ बदलाव

दरअसल सूत्रों से ये जानकारी मिली है कि पुंछ जिले के खड़ी करमाड़ा और देगवार सेक्टर के बॉर्डर पार के पाकिस्तानी इलाके के तोली पीर में कई दिन से हलचल दिख रही है। पाकिस्तान यहां अपने सैनिकों की संख्या को बढ़ा रहा है और हथियार जमा कर रहा है। इस काम में हेलिकॉप्टर और बुलेटप्रूफ गाड़ियों का इस्तेमाल किया जा रहा है।

इसके अलावा यहां रहने वाले गांव के लोगों को भी जबरन गांव से बाहर भेजा गया है यानी गांव को खाली करा लिया गया है। कहा जा रहा है कि पाकिस्तानी सैनिक तोली पीर इलाके में सक्रिय हैं और उन्होंने ग्रामीणों को तहसील बाग भेज दिया है। नए आदेश जारी होने तक लोगों को तोली पीर इलाके में जाने की इजाजत नहीं है। कहा जा रहा है कि पाकिस्तान के साथ चीन की सेना भी है। ऐसे में भारतीय सेना पूरी तरह अलर्ट है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें