पाकिस्तान की नापाक हरकत बेनकाब, भारत में छोटे और बड़े ड्रोन्स के जरिए कर रहा रेकी और हथियारों की सप्लाई

आतंकी ने बताया है कि पाकिस्तान (Pakistan) में बैठे आतंकी हैंडलर टारगेट लोकेशन का वीडियो बनाकर आतंकियों को देते हैं।

Pakistan

सांकेतिक फोटो

पाकिस्तान (Pakistan) की तरफ से 2 तरह के ड्रोन भारत की सीमा में भेजे जा रहे हैं। एक तरह के ड्रोन का इस्तेमाल रेकी करने के लिए और दूसरी तरह के ड्रोन का इस्तेमाल हथियार सप्लाई के लिए किया जा रहा है।

जम्मू कश्मीर: भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान (Pakistan) किसी ना किसी तरह अशांति फैलाने की कोशिश करता रहता है। ऐसे में हालही में IED के साथ पकड़े गए आतंकी नदीम ने पूछताछ में एक चौंकाने वाला खुलासा किया है।

आतंकी ने बताया है कि पाकिस्तान (Pakistan) में बैठे आतंकी हैंडलर टारगेट लोकेशन का वीडियो बनाकर आतंकियों को देते हैं। यानी पहले टारगेट लोकेशन का वीडियो बनकर पाकिस्तान जाता है, फिर वहां से आतंकी को भेजा जाता है, जिससे वो घटना को अंजाम दे सके।

आतंकी नदीम को जो आईईडी मिला था, उसे कहां से लेना था, इसकी डिटेल्स और लोकेशन नदीम के फोन पर आ गई थी। ये वीडियो पाकिस्तान से भेजा गया था। ये ऐसे नंबर से भेजा गया था, जिसका इस्तेमाल केवल इंटरनेट से हो सकता है।

जम्मू के बाद अब श्रीनगर में भी ड्रोन उड़ाना, रखना और खरीदना गैरकानूनी, प्रशासन ने जारी किया आदेश

मिली जानकारी के मुताबिक, पहले आतंकी व्हाट्सऐप नंबर पर बातचीत के जरिए अपने काम को अंजाम देते थे, लेकिन अब जिस आतंकी से काम कराना होता है, उसे एक वीडियो बनाकर दिया जाता है,जिससे उसे वारदात को अंजाम देने में आसानी हो।

मिली जानकारी के मुताबिक, आतंकी नदीम और उसके साथियों को भीड़ में आईईडी विस्फोट करने का टारगेट दिया गया था, इसके बाद इन तीनों को वापस जाकर आतंकी संगठन लश्कर की सदस्यता मिलने वाली थी।

खबर ये भी है कि पाकिस्तान (Pakistan) की तरफ से 2 तरह के ड्रोन भारत की सीमा में भेजे जा रहे हैं। एक तरह के ड्रोन का इस्तेमाल रेकी करने के लिए और दूसरी तरह के ड्रोन का इस्तेमाल हथियार सप्लाई के लिए किया जा रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें