पाकिस्तान में गृह युद्ध जैसी स्थिति, पुलिस और सेना आमने-सामने

पाकिस्तान (Pakistan) में पुलिस और सेना के बीच हुई झड़प से देश में गृह युद्ध जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है। कराची में पुलिस और सेना आमने-सामने आ गए हैं। अब भी दोनों के बीच भीषण गोलीबारी हो रही है।

Pakistan

पाकिस्तान (Pakistan) के आतंरिक मामलों के मंत्री ब्रिगेडियर इजाज शाह पर आरोप है कि पूर्व पीएम नवाज शरीफ के दामाद सफदर अवान की गिरफ्तारी के लिए सिंध पुलिस प्रमुख पर दबाव डाला गया।

पाकिस्तान (Pakistan) में पुलिस और सेना के बीच हुई झड़प से देश में गृह युद्ध जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है। कराची में पुलिस और सेना आमने-सामने आ गए हैं। अब भी दोनों के बीच भीषण गोलीबारी हो रही है। कराची में पुलिस और सेना के बीच हुई झड़प में दस जवानों की मौत हो गई है। वहीं, पाकिस्तानी मीडिया ने गंभीर होते हालात को जनता से छिपाने की कोशिश भी शुरू कर दी है।

दरअसल, सफदर और उनकी पत्नी पीएमएल-नवाज की उपाध्यक्ष मरियम नवाज पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट की रैली में भाग लेने के लिए कराची आई थीं। इसी दौरान सफदर को उनके होटल के कमरे से गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि, जल्द ही उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। इसके बाद से मामला और ज्यादा बिगड़ गया है।

COVID-19: देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 78 लाख के पार, 24 घंटे में आए 53,370 नए केस

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान (Pakistan) के कराची में पुलिस और सेना के बीच हुई झड़प में दस जवानों की मौत हो गई है। मरने वालों में सेना के पांच अधिकारी भी शामिल हैं। हालांकि, पाकिस्तानी मीडिया ने इस खबर को दबाने की पूरी कोशिश कर रही है। इंटरनेशनल हेराल्ड के एक ट्वीट के अनुसार, कराची में सिंध पुलिस और पाकिस्तानी सेना के बीच हुई गोलीबारी में दस जवानों की मौत हो गई।

गोलीबारी के दौरान सिंध के पुलिस अधीक्षक एम आफताब अनवर को हिरासत में ले लिया। इसके अलावा, सिंध पुलिस ने ट्वीट कर कहा है कि 18/19 अक्तूबर की रात को सेना के जवानों ने आईजी सिंध मुश्ताक मेहर का अपहरण कर लिया था। उन्हें मोहम्मद सफदर की गिरफ्तारी के आदेश पर दस्तखत करने के लिए मजबूर भी किया गया था।

ये भी देखें-

उधर, पाकिस्तान (Pakistan) के आतंरिक मामलों के मंत्री ब्रिगेडियर इजाज शाह पर आरोप है कि पूर्व पीएम नवाज शरीफ के दामाद सफदर अवान की गिरफ्तारी के लिए सिंध पुलिस प्रमुख पर दबाव डालना और उनका अपहरण इजाज शाह के दिमाग की उपज है। उन्होंने पुलिस अधिकारी के अपहरण मामले में पाकिस्तानी रेंजर्स का बचाव किया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें