बौखलाए ISI ने अपने आतंकियों को भेजा संदेश, सेना की वर्दी में करो हमला

भारत में बार-बार आतंकी हमले की साजिश में नाकाम पाकिस्तान की खुफिया आईएसआई (ISI) एजेंसी बौखलाई हुई है। अपने हर हथकंडे में असफल होने के बाद उसने अब आतंकियों को नया पैगाम भेजा है। 

ISI

जम्मू कश्मीर में भारत सरकार द्वारा धारा 370 लगाने के बाद से पाकिस्तानी आतंकियों को मिलने वाला पनाह अब खत्म सा हो गया है। जिसकी वजह से पाकिस्तान सरहद पार से भारत में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने में असमर्थ है। पिछले दो महीने के दौरान पाकिस्तानी सैनिकों ने एलओसी पर लगातार सीजफायर उल्लंघन करके आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश की लेकिन मुस्तैद भारतीय सेना पाकिस्तानी रेंजर्स के हर प्रयास को असफल कर दिया। लिहाजा पाकिस्तानी आतंकी संगठन भारत में मौजूद अपने स्लिपर सेलों और आतंकियों को नये-नये तरीके सीखा रही है। आईएसआई (ISI) आतंकियों को कहा है कि वह सेना व सुरक्षाकर्मी की वर्दी से लैस हों और दो पहिया वाहन का प्रयोग करें और साथ में एक महिला को बैठाएं। इससे उन पर शक नहीं होगा और सुरक्षाकर्मियों, उनके कैम्प व सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमला करने में मदद मिलेगी। साथ ही यह भी कहा है कि कश्मीर घाटी में दहशत फैलाओ।

पाकिस्तान की धमकी, भारत और उसके सहयोगी देशों पर करेंगे मिसाइल हमला

गत 22 अक्टूबर को इस बाबत पीओके में एक बैठक हुई। इसमें आईएसआई (ISI) के अधिकारियों के साथ जैश-ए-मोहम्मद,लश्कर-ए-तय्यबा, हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी संगठन के कमांडर और सेना के अधिकारी मौजूद थे। बैठक में सेना के मौलाना अजहर, मेजर खालिद हुसैन, मेजर इस्माइल जमीर थे। आईएसआई (ISI) ने आतंकियों से कहा है कि वर्दी में रहने और सुरक्षाबलों के वाहनों की तरह नंबर प्लेट लगाने उन पर शक कम होगा और दहशत फैलाने या अन्य किसी घटना को अंजाम देने में सुविधा होगी।

बगदादी का बदला लेने की फिराक में आईएस, 14 हजार लड़ाके सक्रिय: US

सूत्रों के अनुसार पाक स्थित आतंकी आकाओं ने स्लीपर सेल से कहा है कि बाजार से इन साथियों के लिए वर्दी की व्यवस्था करें। फिलहाल आतंकी आकाओं ने सेना और अन्य सुरक्षा एजेंसी , उनके कैम्प और सैन्य प्रतिष्ठानों और ठिकानों को टारगेट करने को कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here