एनआईए ने शुरू की आतंकियों के लखनऊ कनेक्शन की जांच, गिरफ्तार अल-कायदा के सदस्यों से करेगी पूछताछ

इस मामले का खुलासा यूपी एटीएस (UP ATS) ने पिछले महीने की 11 तारीख को लखनऊ से दो संदिग्ध आतंकियों (Militants) मिनहाज और मशीरुदीन को गिरफ्तार करने के बाद किया था।

NIA

File Photo

अंतर्राष्ट्रीय आतंकी संगठन अल-कायदा के अंसार गजवातुल हिंद मॉड्यूल की जांच एनआईए (NIA) ने टेकओवर कर ली है। एनआईए (NIA) जल्द ही इस मामले में गिरफ्तार संदिग्ध आतंकियों (Militants) से जेल में पूछताछ करने की तैयारी में है। इसके साथ ही आरोपियों को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेकर तमाम स्थानों पर छापेमारी भी कर सकती है। 

जम्मू कश्मीर: आतंकियों की नापाक साजिश, श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर BSF के काफिले पर किया हमला

लखनऊ स्थित एनआईए थाने में इसका केस दर्ज कर लिया गया है। बृहस्पतिवार को दिल्ली स्थित एनआईए मुख्यालय से आईजी आशीष बत्रा ने लखनऊ आकर डीआईजी प्रशांत कुमार और एसपी ज्योति प्रिया सिंह समेत तमाम अधिकारियों के साथ इस मामले की समीक्षा की और जांच को लेकर अहम दिशा–निर्देश दिए।

गौरतलब है कि इस मामले का खुलासा यूपी एटीएस (UP ATS) ने पिछले महीने की 11 तारीख को लखनऊ से दो संदिग्ध आतंकियों (Militants) मिनहाज और मशीरुदीन को गिरफ्तार करने के बाद किया था। बाद में उनके तीन अन्य साथियों वजीरगंज निवासी शकील‚ सीतापुर रोड़ स्थित मदेयगंज निवासी मोहम्मद मुस्तकीम और कैम्पबेल रोड़ स्थित न्यू हैदरगंज निवासी मोहम्मद मुईद को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

एटीएस को सूचना मिली थी कि अल-कायदा सदस्य उमर हलमंड़ी पाकिस्तान–अफगानिस्तान बार्डर पर सक्रिय है और इंडिया सब कांटिनेंट में आतंकियों (Militants) की नर्सरी तैयार कर रहा है। उसने लखनऊ में भी कई लोगों को जेहादी गतिविधियों में शामिल होने के लिए जोड़ा है। लखनऊ के काकोरी निवासी मिनहाज‚ मडियांव निवासी मशीरुदीन और शकील इस माड्यूल के अहम सदस्य हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें