झीरम घाटी नक्सली हमले में शामिल नक्सलियों पर NIA ने घोषित किया इनाम

झीरम घाटी नक्सली हमले में शामिल नक्सलियों पर National Investigative Agency (NIA) ने इनाम घोषित किया है। NIA ने वारदात को अंजाम देने वाले नक्सलियों की सूचना देने वाले को 7 लाख रुपए का इनाम देने का ऐलान किया है। NIA ने इन नक्सलियों पर 50 हजार से लेकर 7 लाख रुपये तक का इनाम घोषित किया है।

NIA

NIA के अधिकारियों के अनुसार, कुख्यात नक्सली देवजी और गणेश उइके पर सात-सात लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया है। दोनों नक्सली नेता दंडकारण्य क्षेत्र में सक्रिय हैं और झीरम कांड के मास्टर माइंड माने जाते हैं। NIA ने नक्सलियों के नाम, उपनाम और पता का भी जिक्र किया है। नक्सली देवजी और गणेश मूल रूप से तेलंगाना के रहने वाले हैं। वहीं, छत्तीसगढ़ के सुकमा के रहने वाले सोमा सोढ़ी, बारसे सुक्का, जयलाल मंडावी, भगत हेमला उर्फ बदरू, सप्पो हुंगा पर पांच-पांच लाख का इनाम घोषित किया गया है। तीन नक्सलियों पर ढाई लाख का इनाम घोषित किया गया है। इसमें तेलम आयतू, बदरू मोडियाम और कुरसम सन्नी शामिल हैं। ये तीनों बीजापुर जिले के हैं।

नौ नक्सलियों पर एक-एक लाख का इनाम घोषित किया गया है। इसमें बस्तर के कामेश कवासी, बीजापुर के कोरसा सन्नी, लच्छी मोडियाम, सोमी पोटाम, मोडियम रमेश, कोरसा लक्खू, सरिता केकम, कुम्मा गोंदे और मंगली कोसा शामिल हैं। वहीं, दंतेवाड़ा के मड्डा मड़कामी और सन्नू वेट्टी पर 50-50 हजार का इनाम घोषित किया गया है। NIA ने जानकारी देने के लिए रायपुर के एसपी का नंबर भी जारी किया है। मौलश्री विहार स्थित NIA कार्यालय में सीधे जानकारी भी दी जा सकती है। साथ ही, दिल्ली कार्यालय में भी जानकारी भेजी जा सकती है। NIA ने इनाम घोषित करने के साथ ही जांच में भी तेजी लाई है।

पढ़ें: कल से खुलेंगे जन्नत के दरवाजे, घाटी में पर्यटकों पर लगा बैन हटा

गौरतलब है कि, 25 मई, 2013 को कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा के दौरान नक्सलियों ने झीरम घाटी में हमला कर दिया था। इस नरसंहार में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं सहित कुल 31 लोग मारे गए थे। बस्तर संभाग स्थित झीरम घाटी में हुए इस नक्सली हमले में कांग्रेस के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ला, नेता प्रतिपक्ष महेंद्र कर्मा सहित 31 लोगों की जान गई थी। हमले के बाद इसकी जांच की जिम्मेदारी NIA को सौंपी गई थी, जिसके बाद से ही एजेंसी इसकी जांच कर रही है।

पढ़ें: बंदी का असर बच्चों की पढ़ाई पर, छात्रों के घरों में लगेंगी स्पेशल क्लासेज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here