गिरीडीह: पोस्टर लगा नक्सलियों ने संगठन की 15वीं वर्षगाठ मनाने का किया ऐलान, पुलिस अलर्ट

naxali, poster, banner, giridih, police alert, sirf sach, sirfsach.in, नक्सली, पोस्टर, बैनर, नक्सल, झारखंड, गिरीडीह, नक्सली पोस्टर, नक्सली बैनर, झारखंड नक्सली, झारखंड पुलिस, सिर्फ सच

लोगों में दहशत फैलाने के लिए कुख्यात नक्सलियों ने झारखंड के गिरिडीह में पोस्टर बैनर चिपका कर प्रशासन को खुलेआम चुनौती दे दी है। जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने जिले के पीरटांड़, खुखरा तथा डुमरी थाना क्षेत्र के साथ-साथ निमियाघाट थाना क्षेत्र जो पारसनाथ के तलहटी से सटा हुआ है और बोकारो एवं गिरिडीह के सीमांचल गांवों में भी बैनर लगाते हुए पुलिस एवं सरकार को चुनौती दी है। गंभीर बात यह भी है कि नक्सलियों द्वारा पोस्टर और बैनर को रास्ते में पड़ने वाले विद्यालयों के मुख्य दरवाजे और ग्रामीण मुहाने के साथ-साथ ग्रामीण सड़कों के किनारे लगाया गया है।

सुदूर पारसनाथ पर्वत की तलहटी में बसे गांव लक्ष्मण चकरबराय, मटीयो, चैनपुर, नागाबाद, भरखर, बिसुवाबेड़ा समेत कुछ अन्य गांवों में भी नक्सिलयों द्वारा बैनर लगाए गए हैं। नक्सलियों द्वारा लगाए गए बैनर पोस्टर से गांव में दहशत का माहौल है। इस संबंध में गांव वाले या कोई भी कुछ बोलने से बच रहा है। इस पोस्टर के माध्यम से नक्सलियों ने पार्टी की 15 वीं वर्षगांठ को धूमधाम से मनाने की अपील करते हुए कहा है कि 21 सितंबर से 27 सितंबर, 2019 तक पूरे सप्ताह भर जोश के साथ वर्षगांठ मनाने में ग्रामीण भागीदारी निभाएं।

पोस्टर के माध्यम से बताया गया है कि सीपीआई (एमएल) पीडब्ल्यू तथा एमसीसीआई तीनों नक्सली संगठन का विलय 21 सितंबर, 2004 को हुआ था जिसके बाद पार्टी का नाम कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी ) रखा गया था। इस संगठन की 15वीं वर्षगाठ के उपलक्ष्य पर नक्सलियों ने पार्टी के संस्थापक शिक्षक एवं नेता चारु मजूमदार एवं कन्हाई चटर्जी को श्रद्धांजलि समर्पित सभा का आयोजन करने का भी ऐलान किया है। नक्सलियों द्वारा लगाए गए इस पोस्टर के बाद यहां प्रशासन के कान खड़े हो गए हैं। मुस्तैद प्रशासन नक्सलियों के संभावित कार्यक्रम पर नजर बनाए हुए है। इस मामले में हालांकि अभी तक किसी की भी गिरफ्तारी की कोई खबर नहीं है।

पढ़ें: चतरा में टीएसपीसी का सब-जोनल कमांडर गिरफ्तार

नक्सली को आजीवन कारावास की सजा, टीचर के अपहरण और हत्या का है दोषी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here