महेश भट्ट ने अपनी ही बेटी को किया था स्मूच, पूजा भट्ट से थी शादी की इच्छा

Mahesh Bhatt Birthday : भारतीय फिल्मों के जाने माने फिल्म निर्माता, निर्देशक और लेखक महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) किसी परिचय के मोहताज नहीं है। हिंदी सिनेमा को अर्थपूर्ण और अंतरंग दृश्यों को सिने पर्दे पर दिखाने की उनकी कला आज भी लोगों को याद है। अपनी फिल्मी रिश्तों और विवादित बयानों के कारण अक्सर सुर्खियों में रहने वाले महेश भट्ट अपनी खुशमिजाजी के लिए ज्यादा जाने जाते हैं।

Mahesh Bhatt

महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) का जन्म 20 सितंबर, 1949 को मुंबई में हुआ। उनके पिता नानाभाई भट्ट एक ब्राह्मण थे और उनकी मां शिरीन मोहम्मद अली एक मुस्लिम थीं। महेश के पिता एक मशहूर फिल्मकार थे, शायद यही कारण था कि बचपन से ही महेश का रुझान फिल्मों की तरफ हो गया। महेश 1970 में अपने कॉलेज की पढ़ाई छोड़कर फिल्मों के निर्देशन में हाथ आजमाने लगे। अपने फिल्मी करियर की शुरुआत उन्होंने निर्देशक राज खोसला के एसिस्टेंट के तौर पर की। महेश ने 21 साल की उम्र में अपनी पहली शार्ट फिल्म ‘संकट’ का निर्देशन किया। साल 1985 में महेश को उनकी  फिल्म सारांश ने के लिए मास्को फिल्म फेस्टिवल में स्पेशल ज्यूरी अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। महेश भट्ट ‘अर्थ’, ‘जानम’ और ‘नाम’ जैसी फिल्में बनाकर बॉलीवुड के स्थापित निर्देशकों में शुमार हो गए। उन्होंने अपनी  फिल्मों में अक्सर नये कलाकारों को मौका दिया और बाद में ये कलाकार फिल्म जगत में एक खास मुकाम हासिल किए।

इतिहास में आज का दिन – 20 सितंबर

महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) अपनी गैर-परंपरागत स्टाइल के फिल्म निर्माण और बोल्ड विषयों के लिए जाने जाते हैं। ये फिल्में उनकी जिंदगी के अनुभवों को दर्शाती हैं। 1988 में उनकी फिल्म ‘जख्म’ के लिए 1993 के मुंबई दंगों पर आधारित होने के कारण सेंसर बोर्ड को आपत्ति हुई थी। ये फिल्म उनकी मुसलिम मां और उनके हिंदू पिता नानाभाई भट्ट के बीच के संबंधों और इस संबंध के कारण उनकी मुस्लिम मां पर पड़े दबाव की कहानी है। इस फिल्म में शानदार अभिनय के लिए अजय देवगन को बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला था और महेश को बेस्ट स्क्रीन प्ले का अवॉर्ड दिया गया। महेश की साल 1982 में आई फिल्म ‘अर्थ’ में शानदार एक्टिंग के लिए शबाना आजमी को अवॉर्ड भी मिला। उनकी फिल्म ‘सारांश’ में अनुपम खेर की एक्टिंग आज भी लोगों के जेहन में है। महेश ने अपने छोटे भाई मुकेश भट्ट के साथ मिलकर 1987 में अपने प्रोडक्शन कंपनी ‘विशेष’ की स्थापना की और इसी के बैनर तले फिल्मों का निर्माण शुरू किया। महेश ने 1995 में छोटे पर्दे पर भी हाथ आजमाया और ‘स्वाभिमान’ नामक सीरियल का सफल निर्देशन किया। लेकिन 1999 में आई उनकी फिल्म ‘कारतूस’ के असफल होने के बाद उन्होंने निर्देशन से किनारा कर लिया। इस बीच महेश लगातार फिल्मों की कहानी और स्क्रीन-प्ले लिखते रहे। लगभग 20 साल फिल्म निर्माण से दूर रहने के बाद महेश भट्ट फिर से एक बाद फिल्म निर्माण करने जा रहे हैं। महेश अपनी हिट फिल्म ‘सड़क’ के सिक्वेल पर काम कर रहे हैं और जल्द ही बड़े पर्दे पर अपनी वापसी करेंगे।

Mahesh Bhatt

महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) के बारे में कुछ महत्पूर्ण तथ्य

  • भारतीय फिल्म के फेमस निर्माता-निर्देशक महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) का जन्म 20 सितंबर, 1949 को मुंबई में हुआ था। उनके पिता का नाम नानाभाई भट्ट और मां का नाम शिरीन मोहम्‍मद अली है। भट्ट के पिता गुजराती ब्राह्मण थे और उनकी मां गुजराती शिया मुस्लिम थीं।
  • उनकी स्‍कूली पढ़ाई डॉन बोस्‍को हाई स्‍कूल, माटुंगा से हुई थी। स्‍कूल के दौरान ही पैसा कमाने के लिए उन्होंने छुट्टियों में पार्ट टाइम जॉब भी की। इसके अलावा उन्होंने कई प्रोडक्ट के विज्ञापन भी बनाए।
  • महेश ने अपने करियर की शुरुआत निर्देशक राज खोसला के साथ असिस्टेंट के रूप में की, उन्होंने 21 वर्ष की आयु में अपनी पहली फिल्म निर्देशित की थी।
  • महेश भट्ट की एक खासियत है कि वह लोगों को बोल्ड कंटेंट वाली फिल्में दिखाते हैं। उनकी फिल्मों की तरह उनके जीवन में भी अजब-गजब के रिश्ते बने हुए थे।
  • महेश भट्ट अपने पिता से अलग रहते थे। उनके माता-पिता की शादी नहीं हुई थी। महेश भट्ट के पिता हिन्दू और माता मुस्लिम थीं, इसलिए वह दोनों दूर रहते थे।
  • 20 साल के महेश भट्ट का जब अफेयर शुरू हुआ, तब वह कॉलेज में पढ़ते थे। उनका अफेयर लोरिएन ब्राइट से था। ब्राइट का नाम बाद में किरन भट्ट हो गया। इनके दो बच्‍चे भी हैं- पूजा भट्ट और राहुल भट्ट।
  • लेकिन 1970 के दशक में महेश भट्ट का अफेयर एक्ट्रेस परवीन बॉबी से हो गया था। इस अफेयर की वजह से उनकी पहली शादी ज्‍यादा दिनों तक नहीं टिक पाई।
  • प‍रवीन बॉबी से उनका अफेयर लंबे समय तक नहीं चला और दोनों 3 साल लिव-इन में रहने के बाद अलग हो गए।
  • साल 1986 में महेश भट्ट ने अभिनेत्री सोनी रजदान से शादी कर ली। महेश भट्ट ने मुस्लिम धर्म अपनाकर सोनी राजदान से शादी कर ली।
  • सोनी राजदान से महेश की दो बेटियां हैं: शाहीन भट्ट और आलिया भट्ट। अलिया भट्ट इस समय बॉलीवुड की सबसे जानी-मानी अभिनेत्री हैं। शाहीन भट्ट ग्लैमर से दूर रहती हैं लेकिन कभी-कभी फिल्मों के स्क्रीनप्ले लिखती रहती हैं।
  • महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) अपनी बड़ी बेटी पूजा भट्ट के साथ भी चर्चा में आ चुके हैं। उन्होंंने एक मैगजीन के कवर पेज के लिए अपनी ही बेटी पूजा भट्ट को स्मूच करते हुए तस्वीर खिंचाई। एक मैगजीन में अपने इंटव्यू में महेश ने कहा था, अगर पूजा मेरी बेटी नहीं होती, तो मैं उससे शादी कर लेता।
  • महेश भट्ट अपनी फिल्मों के माध्यम से अपनी जिंदगी के अनुभवों को बड़े पर्दे पर उतारने की भी कोशिश की। फिल्म ‘आशिकी’, किरन भट्ट के साथ उनके अफेयर पर बेस्ड थी। यही नहीं, फिल्म ‘वो लम्हें’ की स्टोरी भी महेश भट्ट और परवीन बॉबी के अफेयर पर बेस्ड बताई जाती है।
  • महेश भट्ट अपने करियर में तीन बार फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किए गए। उन्होंने अपने तीन दशक लंबे करियर में लगभग 50 फिल्मों का निर्देशन किया है।
  • महेश भट्ट के कुछ यादगार फिल्में– मंजिलें और भी हैं, लहू के दो रंग, अर्थ, सारांश, नाम, कब्‍जा, डैडी, आवारगी, जुर्म, आशिकी, स्‍वयं, सर, हम हैं राही प्‍यार के, क्रिमिनल, दस्‍तक, तमन्‍ना, डुप्लिकेट, जख्‍म, कारतूस, संघर्ष, राज, मर्डर, रोग, जहर, कलयुग, गैंग्‍सटर, वो लम्‍हे, तुम मिले, जिस्‍म 2, मर्डर 3।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here