जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों पर बड़े हमले के लिए लश्कर ने भेजे आतंकी, पाकिस्तानी सेना की आड़ में हो रही घुसपैठ

पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर–ए–तैयबा ने 12 आतंकियों (Terrorists) को ट्रेनिंग देकर भारत में घुसपैठ करने के लिए तैयार किया है।

Terrorist Encounter

सुरक्षाबलों के मुताबिक, जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पड़ोसी देश पाकिस्तान अपनी हर संभव कोशिश कर रहा है कि घाटी के लोगों को भड़काया जाए।

जम्मू कश्मीर में सर्दियों का मौसम शुरू होने से पहले पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई अपने ट्रेंड आतंकियों (Terrorists) को भारत में घुसपैठ कराने की लगातार कोशिश कर रही है। इसको लेकर खुफिया विभाग ने जम्मू–कश्मीर में सुरक्षाबलों (Security Forces) को आगाह किया है।

पुण्यतिथि विशेष: शहनाई के साधक थे भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खान, शास्त्रीय संगीत को संपूर्ण विश्व में स्थापित किया

इंटेलीजेंस  के मुताबिक पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर–ए–तैयबा (Lashkar-E-Taiba) ने 12 आतंकियों (Terrorists) को ट्रेनिंग देकर भारत में घुसपैठ करने के लिए तैयार किया है। इन आतंकियों को लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) से भारत में घुसपैठ कराकर पाकिस्तान एक्शन बॉर्डर टीम (BAT) ने भारतीय आर्मी पोस्ट पर बड़े हमले की साजिश रची है। जिन्हें अलग-अलग ग्रुप में एलओसी पार कराने की कोशिश की जा रही है।

आतंकियों (Terrorists) के निशाने पर सेना की चौकी

इंटेलीजेंस अलर्ट के मुताबिक, लश्कर (Lashkar-E-Taiba) अपने 6 आतंकियों (Terrorists) को एक गाइड की हेल्प से राजौरी जिले के भिंभर गली सेक्टर के रास्ते भारत में प्रवेश कराने की कोशिश कर रहा है। वहीं सुरक्षाबलों (Security Forces) को अलर्ट किया गया है कि 6 आतंकी कमांडर अब्दुल फजल की मदद से पुंछ सेक्टर में भी एलओसी (LoC) पार करने की कोशिश कर रहे हैं।

सुरक्षाबलों के मुताबिक, जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पड़ोसी देश पाकिस्तान अपनी हर संभव कोशिश कर रहा है कि घाटी के लोगों को भड़काया जाए। ऐसे में गर्मी का मौसम खत्म होते ही पाकिस्तान अपने आतंकियों (Terrorists) को घाटी में घुसपैठ कराने की कोशिश में लगा हुआ है ताकि भारत में उसकी प्रायोजित आतंकवादी गतिविधियां चलती रहें।

एक सीनियर आईपीएस ऑफिसर के अनुसार‚ आतंकी गतिविधियों में स्थानीय लोगों की भागीदारी काफी हद तक कम हुई है और सुरक्षाबलों (Security Forces) ने हिंसात्मक घटनाओं की संख्या को कम करने में भी काबू पाया है। इसके अलावा सुरक्षा बल सीमा रेखा (LoC) के उस पार पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में टेरर लांच पैड पर भी नजर बनाए हुए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें