हिजबुल के नये चीफ सैफुल्ला का डेथ वारंट तैयार, जानें इस मोस्ट वांटेड आतंकी की खासियत

घाटी के हिजबुल मुजाहिदीन के नए प्रमुख आतंकी कमांडर सैफुल्ला मीर भी पुलवामा के मलंगपुरा का रहने वाला है। वह आतंकी (Militant) बनने से पहले एक चिकित्सा सहायक रहा और मुठभेड़ में जख्मी होने वाले आतंकियों का इलाज करते-करते पुलवामा का जिला कमांडर बन गया।

Saifullah Mir

हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी कमांडर रियाज नायकू के खात्मे के बाद बनाया गया घाटी का नया प्रमुख 26 साल का आतंकी कमांडर गाजी हैदर उर्फ सैफुल्ला मीर (Saifullah Mir) पहले से ही गृह मंत्रालय के रडार पर है। नए आतंकी (Militant) नाम हिजबुल के सरहद पार बैठे मोस्ट वांटेड आतंकी सरगना सैयद सलाहुद्दीन ने दिया है। हालांकि सुरक्षा एजेंसियां एक अरसे से तलाश में लगी हैं। लेकिन अब इसके घाटी में हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी प्रमुख नामांकित होने के बाद खुफिया तथा सुरक्षा एजेंसियां सघन तलाश में जुट गई है। इसका भी डेथ वारंट तैयार हो गया है।

जुलाई 2016 में हिजबुल मुजाहिदीन के पोस्टर ब्वाय एवं ऑपरेशनल कमांडर रहे आतंकी (Militant) बुरहान वानी के साथ जिन 12 आतंकियों का ग्रुप फोटो सोशल मीडिया पर प्रकाशित हुआ था। उसमें सैफुल्ला मीर (Saifullah Mir) भी है। उस फोटो में दिखाई देने वाले अधिकतर आतंकी मारे जा चुके हैं। जिसमें गत 6 मई को पुलवामा में सुरक्षाबलों के हाथों मारा गया आतंकी कमांडर रियाज नायकू भी है।

झारखंड: पुलिस ने दस नक्सलियों के खिलाफ दर्ज किया मामला, सर्च अभियान तेज

घाटी के हिजबुल मुजाहिदीन के नए प्रमुख आतंकी कमांडर सैफुल्ला मीर (Saifullah Mir) भी पुलवामा के मलंगपुरा का रहने वाला है। वह आतंकी (Militant) बनने से पहले एक चिकित्सा सहायक रहा और मुठभेड़ में जख्मी होने वाले आतंकियों का इलाज करते-करते पुलवामा का जिला कमांडर बन गया। डॉक्टर के नाम से इलाके में मशहूर सैफुल्ला मीर मारे गए आतंकी कमांडर रियाज नायकू का बेहद भरोसेमंद रहा है। दक्षिण कश्मीर में बुरहान वानी की मौत के बाद रियाज नायकू तथा सैफुल्ला मीर ने कम उम्र के पढ़े लिखे युवाओं की नई आतंकी फसल पैदा की। जिसकी जानकारी पाकिस्तान में बैठे हिजबुल मुजाहिदीन सरगना सैयद सलाहुद्दीन को भी रही है।

जानकारों का मानना है कि घाटी का प्रमुख कमांडर बनने की दौड़ में कुछ और आतंकी (Militant) नाम भी उछले लेकिन सैफुल्ला मीर (Saifullah Mir) को गाजी हैदर के नए नाम के साथ सलाहुदीन ने अपनी साजिशों को अंजाम देने के लिए उसकी नई नियुक्ति की है। सैफल्ला मीर उर्फ गाजी हैदर भी A++ श्रेणी का आतंकी है।

पुलवामा जिला कमांडर बनाए जाने से पहले सैफुल्ला मीर (Saifullah Mir)  सरहद पार से आने वाले आतंकियों (Militants) के लिए गाइड का काम करता रहा है। वह दक्षिण कश्मीर के त्राल, काकपोरा के अलावा कुलगाम से लेकर श्रीनगर शहर तक आतंकियों की मदद के लिए सक्रिय रहा है। गत वर्ष गृह – मंत्रालय को खुफिया तथा सुरक्षा एजेंसियों से मिले इनपुट के बाद तैयार की गई मोस्टवांटेड आतंकियों (Militants) की सूची में सैफुल्ला मीर का नाम शामिल है।

यह भी पढ़ें