Jharkhand: पूर्वी सिंहभूम में नक्सलियों के खिलाफ अभियान तेज, पुलिस कर रही कुख्यात नक्सली श्याम सिंकू की तलाश

झारखंड (Jharkhand) के पूर्वी सिंहभूम जिल के गुड़ाबांदा के आसपास क्षेत्र में एएसपी अभियान के नेतृत्व में पुलिस (Police) की ओर से नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ जबरदस्त अभियान शुरू किया गया है। बीते दिनों नक्सलियों (Naxalites) की ओर से की गई पोस्टरबाजी के बाद से पुलिस ने कार्रवाई तेज कर दी है।

Naxals

फाइल फोटो।

झारखंड (Jharkhand) के पूर्वी सिंहभूम जिले के गुड़ाबांदा के आसपास क्षेत्र में एएसपी अभियान के नेतृत्व में पुलिस (Police) की ओर से नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ जबरदस्त अभियान शुरू किया गया है। बीते दिनों इलाके में नक्सलियों (Naxalites) की ओर से की गई पोस्टरबाजी के बाद से पुलिस ने कार्रवाई तेज कर दी है।

इस इलाके में सक्रिय कुख्यात नक्सली श्याम सिंकू की तलाश में पुलिस छापामारी अभियान चला रही है। पुलिस नक्सलियों की खोज में जंगलों और पहाड़ों की घेराबंदी कर छापेमारी कर रही है। एएसपी अभियान के नेतृत्व में पुलिस की टीम 14 जुलाई को तड़के गुड़ा पिकेट होते हुए महेशपुर पहुंची। महेशपुर में गाड़ियों को रोककर वहां से पैदल सर्च अभियान शुरू किया गया।

मारे गए सैनिकों के परिवारों पर दबाव बना रहा चीन, नहीं करने दे रहा अंतिम संस्कार

इस दौरान पुलिस बकराकोचा, लिपोकोचा, राहेरगोड़ा, नामोलेपो आदि क्षेत्रों में एलआरपी कर नक्सली गतिविधियों के बारे में पता लगाने की कोशिश कर रही है। साथ ही पावड़ा पहाड़ के चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। बता दें कि गुड़ाबांदा थाना क्षेत्र के भालकी में 1 सप्ताह पहले लगे नक्सलियों (Naxals) ने पोस्टरबाजी की थी। जिसके बाद से पुलिस ने अभियान तेज कर दिया है।

पुलिस ने इलाके में नक्सलियों की पोस्टरबाजी के बाद गतिविधियां बढ़ा दी हैं। पुलिसबल की ओर से प्रतिदिन एलआरपी की जा रही है। वहीं, ग्रामीणों से मिलकर अपने सूचना तंत्र को भी मजबूत करने का काम किया जा रहा है। गांव वालों से अनजान चेहरे के बारे में पूछताछ की जा रही है।

टेरर फंडिंग मामले में NIA ने नक्सली फुलेश्वर गोप को गिरफ्तार किया, लेवी के पैसे बाजार में करता था निवेश

पुलिस की ओर से यह पता करने का प्रयास किया जा रहा है कि यहां साल 2017 में नक्सलियों (Naxalites) के आत्मसमर्पण (Surrender) बाद फिर से नक्सल गतिविधियां कैसे और कहां से पनप रही हैं। पुलिस प्रशासन इस पर अभी से प्रभावी तरीके से रोक लगाने के लिए पूरी तरह एक्टिव है।

जानकारी के अनुसार, पुलिस को कुछ सूचनाएं मिली हैं कि इन दिनों खजूरदाढ़ी, राहेडगोड़ा, बकड़ाकोचा आदि क्षेत्रों में कुछ अनजान लोगों का आना-जाना बढ़ा है। बता दें कि प्रदेश से नक्सलवाद को उखाड़ फेंकने के लिए सरकार और प्रशासन कमर कस चुके हैं। नक्सल प्रभावित इलाकों में नक्सलियों (Naxals) को कमजोर करने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें