Jharkhand: नक्सलियों को उखाड़ फेंकने की हो चुकी है तैयारी, ये है पुलिस का एक्शन प्लान

झारखंड (Jharkhand) में नक्सलियों (Naxals) पर प्रहार कर उनके नेटवर्क को ध्वस्त करने के लिए पुलिस मुख्यालय जबरदस्त प्लान तैयार किया है। इस एक्शन प्लान को पूरा करने की जिम्मेदारी नक्सल प्रभावित जिलों के एसपी को दी गई है।

Naxals Network

पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक को टास्क दिया है कि नक्सलियों के नेटवर्क (Naxals Network) को ध्वस्त करने के लिए वैसे व्यक्ति की पहचान कर उनका पता लगाएं, जो नक्सलियों की मदद करते हैं।

झारखंड (Jharkhand) में नक्सलियों (Naxals) पर प्रहार कर उनके नेटवर्क को ध्वस्त करने के लिए पुलिस मुख्यालय जबरदस्त प्लान तैयार किया है। इस एक्शन प्लान को पूरा करने की जिम्मेदारी नक्सल प्रभावित जिलों के एसपी को दी गई है। डीआइजी अपने रेंज में इसकी मॉनीटरिंग करेंगे।

पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक को टास्क दिया है कि नक्सलियों के नेटवर्क (Naxals Network) को ध्वस्त करने के लिए वैसे व्यक्ति की पहचान कर उनका पता लगाएं, जो नक्सलियों की मदद करते हैं। मददगारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने से नक्सलियों और उग्रवादियों का नेटवर्क (Naxals Network) ध्वस्त किया जा सकता है।

Farmers Protest: पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने लौटाया ‘पद्म विभूषण’, राष्ट्रपति को चिट्ठी लिख कही ये बात

इसके साथ ही यह भी टास्क दिया गया है कि विशेष रूप से नक्सली और उनके रिश्तेदारों को चिह्नित कर उनके खिलाफ कार्रवाई करें। बता दें कि हाल के दिनों में नक्सल और उग्रवाद प्रभावित जिलों में नक्सलियों (Naxalites) ने कई हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया है। राज्य के लोहरदगा जिले में नक्सली रवींद्र गंझू के दस्ता द्वारा लेवी के लिए घटना को अंजाम देने की बात सामने आ चुकी है।

इसके बाद लोहरदगा में रवींद्र की तलाश में कोबरा बटालियन ने बड़े पैमाने पर गुमला और लोहरदगा पुलिस के साथ अभियान शुरू किया था, लेकिन रवींद्र बच निकलने में कामयाब रहा। दूसरी ओर चाईबासा में भी पीएलएफआइ (PLFI) के नक्सलियों के खिलाफ बड़े पैमाने पर अभियान शुरू किया गया है। इसमें हाल के दिनों में मुठभेड़ की दो घटना हो चुकी है।

ये भी देखें-

इसलिए अब पुलिस नक्सलियों पर नियंत्रण पाने के लिए उनके नेटवर्क (Naxals Network) को ध्वस्त करने की तैयारी में जुट गई है। पीएलएफआइ और अन्य नक्सलियों की गतिविधियों पर खुफिया विभाग द्वारा विशेष निगरानी रखी जा रही है। खुफिया विभाग की सटीक सूचना पर हाल के दिनों में पीएलएफआइ (PLFI) के उग्रवादियों के खिलाफ कई अभियान चलाया गया, जिसमें पुलिस को सफलता भी मिली है। अब राज्य पुलिस इन नक्सलियों को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए कमर कस चुकी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App