झारखंड: नक्सलियों ने सवारी बस पर की अंधाधुंध फायरिंग, ड्राइवर की सूझबूझ से बड़ा हादसा टला

रास्ते में हथियारों से लैस नक्सलियों (Naxalites)  ने बस रोकने की कोशिश की। लेकिन ड्राइवर ने बस की स्पीड तेज कर दी, जिससे गुस्साए नक्सलियों ने बस पर फायरिंग शुरू कर दी। नक्सलियों (Naxalites)  ने बस पर करीब 7-8 राउंड फायरिंग की।

Naxalites

सांकेतिक तस्वीर

‘जाको राखे साईयां, मार सके ना कोई…’ ये कहावत पूरी तरह से इस घटना पर फिट बैठती है। दरअसल रांची से चाईबासा जा रही एक सवारी बस पर नक्सलियों (Naxalites) ने ताबड़तोड़ फायरिंग की, लेकिन बस ड्राइवर की सूझबूझ से उसमें सवार सभी यात्री बिना किसी नुकसान के चाईबासा पहुंचने में सफल रहे। वहां पहुंचकर ड्राइवर ने मामले की सूचना पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस अपनी जांच में जुट गई है।

मध्य प्रदेश में बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश, करीब 100 नक्सलियों (Naxalites) ने बीते महीनों में की घुसपैठ

ये घटना पश्चिम सिंहभूम जिले के बंदगांव थाना इलाके में घटी। जब हथियार बंद नक्सलियों (Naxalites)  ने बड़ी वारदात को अंजाम देने का प्रयास किया। रांची से चाईबासा जा रही शक्तिपुंज बस पर पहले से घात लगाए बैठे नक्सलियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। बस चालक ने मौके की गंभीरता को समझते हुये फौरन अपनी स्पीड़ बढ़ा दी और सभी यात्रियों को लेकर चाईबासा पहुंच गया। जहां पहुंचकर ड्राइवर ने बस मालिक और पुलिस को इस घटना की सूचना दी। जिसके आधार पर चाईबासा पुलिस और सीआरपीएफ की टीम घटनास्थल की तरफ सर्च ऑपरेशन के लिए रवाना हो गई।

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुये चक्रधरपुर एसडीपीओ ने कहा कि रांची से चाईबासा के लिए बस रवाना हुई थी। बस जैसे ही बंदगांव थाना के जंगल इलाके में पहुंची तो नक्सलियों ने उस पर गोलीबारी शुरू कर दी। हालांकि इस इलाके में ये कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी नक्सलियों की ओर से रांची-चाईबासा रूट पर बसों का आवागमन को बाधित कर लेवी वसूलने के लिए फायरिंग की गई थी।

वहीं इस घटना के दौरान हिम्मत दिखाने वाला बहादुर बस चालक ने कहा कि बंदगांव में सवारियों को उतारने के बाद वो चाईबासा के लिए आगे बढ़ा। इसी दौरान रास्ते में हथियारों से लैस नक्सलियों (Naxalites)  ने बस रोकने की कोशिश की। लेकिन ड्राइवर ने बस की स्पीड तेज कर दी, जिससे गुस्साए नक्सलियों ने बस पर फायरिंग शुरू कर दी। नक्सलियों (Naxalites)  ने बस पर करीब 7-8 राउंड फायरिंग की। गोलियों की आवाज सुनते ही वह बस को और तेजी से भगाते हुए सीधे चाईबासा जाकर रुका।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें