झारखंड: युवक की गोली मारकर हत्या, पर्चा छोड़ नक्सलियों ने ली जिम्मेदारी

झारखंड के खरसावां जिले के कुचाई इलाके के नक्सल प्रभावित कोपलोन चौक पर नक्सलियों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली युवक के सिर में मारी गई, जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

Naxals

झारखंड के खरसावां जिले के कुचाई इलाके के नक्सल प्रभावित कोपलोन चौक पर नक्सलियों (Naxals) ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी।

झारखंड के खरसावां जिले के कुचाई इलाके के नक्सल प्रभावित कोपलोन चौक पर नक्सलियों (Naxals) ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली युवक के सिर में मारी गई, जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना के बाद नक्सलियों ने पर्चा छोड़कर हत्याकांड की जिम्मेदारी ली है।

Naxals
सांकेतिक तस्वीर।

झारखंड के खरसावां जिले के कुचाई इलाके के नक्सल प्रभावित कोपलोन चौक पर नक्सलियों (Naxals) ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली युवक के सिर में मारी गई, जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना के बाद नक्सलियों ने पर्चा छोड़कर हत्याकांड की जिम्मेदारी ली है। घटना 16 फरवरी देर रात 9 बजे की बताई जा रही है। मृतक की पहचान तरम्बा गांव के रहने वाले दुर्गा मुंडा (26 साल) के रूप में हुई है।

देर रात और सुनसान क्षेत्र होने के कारण घटना की सूचना किसी को नहीं मिली। आसपास के स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि रविवार रात के 9 बजे गोली चलने की आवाज सुनाई दी थी। लेकिन माघे पर्व होने के कारण ग्रामीणों को लगा कि लोग पटाखे जला रहे हैं। 17 फरवरी की सुबह पुलिस को सूचना मिली। सूचना मिलते ही कुचाई पुलिस हत्याकांड की जांच में जुट गई है। बता दें कि कुचाई थाना क्षेत्र में एक महीने के अंदर यह दूसरी नक्सली घटना है। इससे पहले, 17 जनवरी, 2020 को दोपहर करीब 2 बजे नक्सलियों (Naxals) ने कुचाई के कड़कदा पुलिया में तोड़ागडीह गांव के 45 वर्षीय छोटू कालिंदी की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

इस हत्याकांड के दो दिनों बाद कुचाई में पोस्टरबाजी कर नक्सलियों (Naxals) ने हत्याकांड की जिम्मेदारी ली थी। एसडीपीओ राकेश रंजन के मुताबिक,नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान से बौखलाहट में आकर नक्सली ऐसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। नक्सल विरोधी अभियानों की वजह से नक्सली संगठन बैकफुट पर आ गए हैं। वे बौखलाहट में आकर निर्दोष लोगों को टारगेट कर रहे हैं। इनका उदेश्य सिर्फ दशहत फैलाना है।

पढ़ें: दो अलग-अलग जगहों से IED बरामद, जवानों की सतर्कता से टला बड़ा हादसा

यह भी पढ़ें