Jharkhand: ‘ऑपरेशन चक्रव्यूह’ के बंद होने के बाद दूसरा एंटी नक्सल ऑपरेशन लॉन्च करने की तैयारी में गुमला पुलिस, ये नक्सली होंगे रडार पर

गुमला पुलिस दो दिन के बाद फिर से भाकपा माओवादी के खिलाफ दूसरा एंटी नक्सल ऑपरेशन (Anti Naxal Operation) लॉन्च करने की तैयारी में है।

Anti Naxal Operation

सांकेतिक तस्वीर

झारखंड (Jharkhand) के गुमला में नक्सलियों के खिलाफ अगला ऑपरेशन (Anti Naxal Operation) भी पूरी प्लानिंग के साथ लॉन्च किया जाएगा।

झारखंड (Jharkhand) के गुमला में सुरक्षाबलों द्वारा चलाए जा रहे ‘ऑपरेशन चक्रव्यूह’ को अब बंद कर दिया गया है। गुमला से 80 किमी दूर कुरूमगढ़ थाना क्षेत्र के जंगली और पहाड़ी इलाकों में भाकपा माओवादी के खिलाफ एक सप्ताह चले ‘ऑपरेशन चक्रव्यूह’ को 18 जुलाई को बंद कर दिया गया।

लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि यहां नक्सलियों के खिलाफ अभियान बंद हो गया है। गुमला पुलिस दो दिन के बाद फिर से भाकपा माओवादी के खिलाफ दूसरा एंटी नक्सल ऑपरेशन (Anti Naxal Operation) लॉन्च करने की तैयारी में है। पुलिस महकमा इसके लिए रणनीति तैयार कर रहा है।

Punjab: भारत-पाक सीमा पर उठता हुआ दिखा धुआं, सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट

जानकारी के मुताबिक, इस बार पुलिस नक्सलियों पर जबरदस्त प्रहार करने की तैयारी में है। पुलिस के टारगेट पर इस बार 10 लाख रुपये का इनामी नक्सली जोनल कमांडर रवींद्र गंझू, 5 लाख का इनामी रंथु उरांव और 2 लाख का इनामी लजीम अंसारी है। इन नक्सलियों के खात्मे के लिए गुमला पुलिस ने रणनीति बनाना शुरू कर दिया है

बता दें कि कुरूमगढ़ थाना के कोचागानी, केरागानी, मरवा व रोरेद जंगल में भाकपा माओवादी के 15 लाख के इनामी नक्सली बुद्धेश्वर उरांव के अपने दस्ते के साथ छिपे होने की सूचना के बाद सीआरपीएफ, कोबरा, झारखंड जगुवार और गुमला पुलिस ने संयुक्त रूप से ‘ऑपरेशन चक्रव्यूह’ चलाया था।

ये भी देखें-

इस ऑपरेशन में पुलिस को बड़ी सफलता मिली और जवानों ने कुख्यात बुद्धेश्वर उरांव को कोचागानी जंगल में मार गिराया। नक्सलियों के खिलाफ अगला ऑपरेशन (Anti Naxal Operation) भी पूरी प्लानिंग के साथ लॉन्च किया जाएगा। इसमें बाकी बचे खूंखार नक्सलियों के खात्मे की उम्मीद है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें