झारखंड: गुमला में नक्सलियों ने युवक की गोली मारकर हत्या की

झारखंड के गुमला (Gumla) जिले में 5 सितंबर को प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर बुधेश्वर उरांव और उसके साथी ने एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक की पहचान बृजमोहन के रूप में हुई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना के बारे में जानकारी ली और इस हत्याकांड की जांच शुरू कर दी। हालांकि, अभी तक हत्या के कारणों के बारे में कोई खुलासा नहीं हो पाया है।

Gumla

घटना Gumla जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र की है। जानकारी के अनुसार, नक्सली बुधेश्वर अपने एक साथी के साथ बृजमोहन सिंह की दुकान के पास पहुंचा और उसे दुकान के बाहर निकाल कर सीने में गोली मार दी। नक्सलियों ने एक गोली युवक के सीने में और दूसरी उसके हाथ में मारी। गोली मारने के बाद नक्सली अपना नारा लगाते हुए वहां से फरार हो गए। घटना के बाद आस-पास के इलाके में सनसनी फैल गई है। लोग दहशत में हैं। घटना के बाद मृतक के शव को चैनपुर अस्पताल लाया गया। जहां उसका पोस्टमार्टम किया गया।

मृतक की पत्नी कमला देवी के मुताबिक, बृजमोहन दुकान पर गए थे। इसी दौरान दो नक्सलियों ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी। कमला देवी के अमुसार, आरोपी बुधेस्वर उरांव अपने एक साथी के साथ मोटरसाइकिल पर था। परिजनों के अनुसार, कुछ महीने पहले ही बृजमोहन को जान से मारने की धमकी मिली थी। जिसके बाद वह चैनपुर में आकर रहने लगा था और जब वो अपने गांव दोबारा गया, तो उसकी हत्या हो गई। चैनपुर थाना प्रभारी मोहन कुमार अस्पताल पहुंच कर मामले की जानकारी लेने में जुट गए।

फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है। गौरतलब है कि झारखंड में विधानसभा चुनाव के दौरान नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में हैं। सिर्फ सच की टीम को Exclusive जानकारी मिली है कि साजिश को अंजाम देने के लिए नक्सलियों ने यहां अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। आपको बता दें कि झारखंड में अगले 3 महीनों में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है जिसको लेकर नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति झारखंड के विभिन्न जिलों में बढ़ा दी है। इसका मुख्य मकसद लोगों में दहशत फैलाने के साथ-साथ चुनाव में बाधा पहुंचाना है।

पढ़ें: बंदी का असर बच्चों की पढ़ाई पर, छात्रों के घरों में लगेंगी स्पेशल क्लासेज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here