झारखंड सरकार का बड़ा ऐलान, अब नक्सली इलाकों में तैनात सुरक्षाबलों को मिलेगी 45 लाख की जीवन बीमा

झारखंड (Jharkhand) सरकार ने नक्सली इलाकों (Naxal Area) में तैनात जवानों के लिए 45 लाख की जीवन बीमा की घोषणा की है। इस बीमा योजना का लाभ नक्सल प्रभावित क्षेत्र में कार्यरत सभी अधिकारियों और सुरक्षाबल के जवानों को मिलेगा।

Jharkhand

फाइल फोटो।

झारखंड (Jharkhand) की हेमंत सरकार ने लाल आतंक से प्रभावित इलाकों में तैनात सुरक्षाबलों (Security Forces) के लिए बड़ा ऐलान किया है। सरकार ने नक्सल क्षेत्रों (Naxal Area) में तैनात जवानों के लिए 45 लाख की जीवन बीमा की घोषणा की है। इस बीमा योजना का लाभ नक्सल प्रभावित क्षेत्र में कार्यरत सभी अधिकारियों और सुरक्षाबल के जवानों को मिलेगा।

नक्सली मुठभेड़ में किसी पुलिसकर्मी के शहीद होने पर परिवार के सदस्यों को 45 लाख और घायल होने पर 15 लाख रुपये मिलेंगे। सरकार का मकसद झारखंड (Jharkhand) को नक्सलवाद की समस्या से मुक्त कराना है। सुरक्षाबल को जवानों का हौसला बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने इस बीमा योजना का ऐलान किया है।

गिरिडीह: दो राज्यों में आतंक मचाने वाला नक्सली धराया, 9 सालों से चल रहा था फरार

इस बीमा योजना के तहत नक्सली मुठभेड़ (Naxal Encounter) में शहीद होने, स्थायी अपंगता, दोनों हाथ या दोनों पैर या दोनों आंखों अगर पूरी तरह खराब हो जाती हैं, तो बीमा की पूरी राशि परिवारजनों को दी जाएगी। गंभीर रूप से घायल होने की स्थिति में बीमा राशि का 50 प्रतिशत मिलेगा।

वहीं, सामान्य रूप से घायल होने की स्थिति में 15 लाख नगद दिए जाएंगे। मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए सैनिक के बच्चों के एक लाख रुपये की मदद का भी प्रवधान है। इस बीमा योजना का लाभ झारखंड पुलिस (Jharkhand Police) समेत केंद्रीय बल, एसटीएफ, गृह रक्षा वाहिनी और एसपीओ के जवानों को मिलेगा।

राज्य पुलिस मुख्यालय ने मेमोरैन्डम ऑफ अन्डर्स्टैन्डिंग (MoU) के माध्यम से धनबाद समेत राज्य के तमाम जिला पुलिस विभागों में इसकी जानकारी दे दी है। बीमा के नियमों के मुताबिक, नक्सल अभियान के दौरान किसी भी दुर्घटना का शिकार होने पर, जैसै- सैनिक को सांप काट ले या कोई सड़क दुर्घटना हो जाए, तो भी 7.50 लाख रुपये दिए जाएंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें