Corona Virus: धुर नक्सल प्रभावित इलाके में पहुंची पुलिस, लोगों को नजर आई उम्मीद की किरण

कोरोना (Corona Virus) के चलते देश भर में हुए लॉकडाउन (Lock Down) के कारण इस इलाके में लोगों की हालत बेहद खराब हो चुकी थी।

Corona Virus

झारखंड (Jharkhand) के गिरिडीह जिले के खुखरा थाना क्षेत्र अंतर्गत अति नक्सल प्रभावित नोकनिया गांव है। हार्डकोर नक्सली नुनु चंद माहतो एवं अजय महतो इसी इलाके के रहने वाले हैं। एक समय में इस गांव में नक्सलियों का दहशत व्याप्त था। नोकनिया में स्कूल भवन को नक्सलियों ने उड़ा दिया था। इस इलाके के लोगों का पुलिस से रिश्ता ठीक नहीं था। पुलिस को आता देख यहां के लोग किनारे हो जाते थे।

Corona Virus
लोगों में जरूरत का सामान बांटते जवान।

कोरोना (Corona Virus) के चलते देश भर में हुए लॉकडाउन (Lock Down) के कारण इस इलाके में लोगों की हालत बेहद खराब हो चुकी थी। लोगों की मदद के लिए इस नक्सल प्रभावित इलाके में कोई सामाजिक या राजनीतिक संगठन भी नहीं पहुंच पा रहे थे। संकट की इस घड़ी में मदद के लिए यहां कोई पहुंचा तो वह पुलिस (Police) थी। गिरिडीह पुलिस और सीआरपीएफ (CRPF) ने अपने मानवीय कर्तव्यों का निर्वाह करने के लिए और गरीबों तथा भूखे लोगों की सहायता करने के उद्देश्य से इस इलाके में पहुंची।

भारत में हालात चिंताजनक: वायरस से मौत की दर अमेरिका, चीन, जर्मनी और फ्रांस से अधिक

कभी पुलिस को देखकर भागने वाले यहां के ग्रामीण आज पुलिस के साथ फ्रेंडली नजर आ रहे हैं। पुलिस नोकनिया एवं बगल के गांव चतरो में कैंप कर रही है। यह कैंप नक्सलियों के खिलाफ किसी ऑपरेशन के लिए नहीं है, बल्कि इस इलाके के लोगों के घरों का चूल्हा जलाने के लिए है। इसी क्रम में जब 12 अप्रैल को पुलिस (Police) और सीआरपीएफ (CRPF) के जवान यबां पहुंचे तो लोगों को एक उम्मीद मजर आई।

चिलचिलाती धूप से मिल सकती है कोरोना से राहत! देश के दो वैज्ञानिकों ने जताया अंदेशा

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ग्रामीणों की लंबी कतार लगी हुई थी। बगल में ही पुलिस (Police) ने मेडिकल कैंप भी लगाया था। मेडिकल कैंप में भी पुलिस विभाग के कई पदाधिकारी मौजूद थे। एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने सबसे पहले ग्रामीणों को कोरोना वायरस (Corona Virus) के बारे में जानकारी दी। उन्होंने लोगों को बताया कि कैसे हम इसके संक्रमण से बच सकते हैं।

इसके बाद ग्रामीणों के बीच मास्क एवं ग्लव्स का वितरण किया गया। साथ ही ग्रामीणों की चिकित्सा जांच की गई तथा सभी को मुफ्त दवाएं भी दी गईं। इसके बाद एसपी सुरेंद्र कुमार झा एवं एसपी आपरेशन दीपक कुमार ने एक-एक कर करीब 330 सौ परिवार को खाद्यान्न समेत अन्य सामग्रियां दी। एसपी ने लोगों से अपील किया कि कोरोना (Corona Virus) को अगर हराना है तो हमें जागरूकता अपनानी होगी। जो लोग बाहर से लौट रहे हैं, उन्हें अलग रखना होगा तभी हम यह जंग जीत पाएंगे।

यह भी पढ़ें