झारखंड: गढ़वा में नक्सलियों द्वारा छिपाकर रखा गया विस्फोटकों का जखीरा बरामद

झारखंड के गढ़वा जिला में पुलिस ने विस्फोटकों का जखीरा बरामद किया। नक्सलियों (Naxals) ने पहाड़ी की गुफा में विस्फोटकों को छिपाकर रखा था। गढ़वा के एसपी के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए जिला पुलिस ने विस्फोटक बरामद किया।

Naxals

झारखंड के गढ़वा जिला में पुलिस ने विस्फोटकों का जखीरा बरामद किया। नक्सलियों ने पहाड़ी की गुफा में विस्फोटकों को छिपाकर रखा था।

झारखंड के गढ़वा जिला में पुलिस ने विस्फोटकों का जखीरा बरामद किया। नक्सलियों (Naxals) ने पहाड़ी की गुफा में विस्फोटकों को छिपाकर रखा था। गढ़वा के एसपी के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए जिला पुलिस ने विस्फोटक बरामद किया। गढ़वा के पुलिस अधीक्षक अश्विनी कुमार सिन्हा ने गुप्त सूचना के आधार पर 7 जनवरी को इस संबंध में कार्रवाई के निर्देश दिए।

Naxals
बरामद विस्फोटकों का जखीरा।

झारखंड के गढ़वा जिला में पुलिस ने विस्फोटकों का जखीरा बरामद किया। नक्सलियों (Naxals) ने पहाड़ी की गुफा में विस्फोटकों को छिपाकर रखा था। गढ़वा के एसपी के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए जिला पुलिस ने विस्फोटक बरामद किया। गढ़वा के पुलिस अधीक्षक अश्विनी कुमार सिन्हा ने गुप्त सूचना के आधार पर 7 जनवरी को इस संबंध में कार्रवाई के निर्देश दिए। एसपी के निर्देश पर एएसपी सदन कुमार के नेतृत्व में छापामारी दल का गठन किया गया। छापामारी दल ने मझिआंव थाना क्षेत्र के जहरसराय जंगल के नजदीक स्थित पहाड़ी की गुफा में नक्सलियों (Naxals) द्वारा छुपा कर रखे गए विस्फोटकों का जखीरा बरामद कर लिया।

गुफा से पुलिस को 173 पीस जिलेटिन स्टिक, 11 पीस इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 30 किलोग्राम यूरिया खाद, एक बंडल इलेक्ट्रिक वायर, सिलिंडर बम बनाने के लिए रखे गये 3 गैस सिलिंडर भी बरामद हुए हैं। झारखंड में नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ सरकार और प्रशासन कड़े कदम उठा रही है। पुलिस का एंटी नक्सल अभियान जारी है। इससे पहले, नक्सलियों के खिलाफ अभियान के तहत गिरिडीह में पारसनाथ पहाड़ के ऊपर पुलिस एवं सीआरपीएफ (CRPF) की टीम पर नक्सली (Naxals) हमले की बड़ी साजिश को सुरक्षाबलों ने नाकाम कर दिया। पुलिस की सक्रियता से य संभव हो पाया।

जानकारी के मुताबिक, पारसनाथ पहाड़ के फूलीबगान में नक्सलियों ने 20 किलो का एक आईईडी (IED) प्लांट किया था। पुलिस टीम को विस्फोट कर उड़ाने की साजिश के तहत नक्सलियों (Naxals) ने आईईडी (IED) प्लांट किया था। मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस टीम पर सर्च ऑपरेशन के दौरान आईईडी (IED) से हमले की नक्सली साजिश की गुप्त सूचना एसपी को मिली थी। सूचना मिलते ही 8 जनवरी की सुबह से ही पुलिस ने पारसनाथ पहाड़ पर सर्च अभियान शुरू कर दिया। घंटों पूरे पहाड़ को खंगालने के बाद दोपहर बाद पुलिस आईईडी बरामद करने में सफल रही।

पढ़ें: ईरान ने डोनाल्ड ट्रंप पर घोषित किया 80 मिलियन डॉलर का ईनाम

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें