झारखंड: पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, चतरा में 10 लाख का इनामी TSPC जोनल कमांडर गिरफ्तार

नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ कार्रवाई के दौरान पुलिस ने 10 लाख रुपए के इनामी TSPC के जोनल कमांडर विकास उर्फ अविनाश उर्फ दशरथ गंझू को कुंदा थाना क्षेत्र से 18 मई को गिरफ्तार कर लिया।

TSPC

TSPC का जोनल कमांडर गिरफ्तार। (सांकेतिक तस्वीर)

झारखंड (Jharkhand) की चतरा पुलिस को तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमिटी (TSPC) के नक्सलियों के खिलाफ बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ कार्रवाई के दौरान पुलिस ने 10 लाख रुपए के इनामी जोनल कमांडर विकास उर्फ अविनाश उर्फ दशरथ गंझू को कुंदा थाना क्षेत्र से 18 मई को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक ऋषभ झा को मिली गुप्त सूचना के आधार पर कार्यवाई में टीएसपीसी (TSPC) के जोनल कमांडर विकास को 18 मई को जिले के नक्सल प्रभावित कुंदा थाना क्षेत्र अंतर्गत मदगड़ा गांव के एकता टोला स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया।

गरीबों के लिए काल है ये कोरोना: 13.5 करोड़ लोगों की निगल लेगा नौकरी, गरीबी की गर्त में समा जायेंगे 12 करोड़ भारतीय!

पुलिस के अनुसार, लगातार सूचना मिल रही थी कि तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमेटी (TSPC) का जोनल कमांडर विकास संगठन के एरिया कमांडर निर्भय और बलवंत के साथ चतरा, हजारीबाग एवं लातेहार जिला के सीमावर्ती क्षेत्र केंदु, कसारी, कसियातु, करमताड़, कान्हूखाप, टूटकी, चोपे, तिबाब व भयपुर समेत एक दर्जन गांवों में सक्रिय है।

यह भी जानकारी मिली थी कि नक्सली क्षेत्र में कार्यरत कोयला कारोबारियों, ठेकेदारों व लघु उद्योग संचालकों को डरा-धमकाकर लेवी वसूली का भी काम कर रहे हैं। इस सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए सिमरिया थाना प्रभारी लव कुमार सिंह के नेतृत्व में जिला पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर अभियान को अंजाम दिया गया।

अभियान के दौरान ही विकास की गिरफ्तारी उसके घर से हुई। गिरफ्तार TSPC जोनल कमांडर के खिलाफ चतरा, हजारीबाग और लातेहार जिले के विभिन्न थानों में 11 नक्सल और अपराधिक मामले दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें