झारखंड: चाईबासा में नक्सलियों ने घात लगाकर पुलिस पर किया हमला, SPO समेत दो जवान शहीद

झारखंड (Jharkhand) के चाईबासा के कराईकेला थाना अंतर्गत जोनों नामक गांव में पुलिस (Police) और नक्सलियों (Naxalites) के बीच भीषण मुठभेड़ हुई। इस घटना में गोली लगने से दो पुलिसकर्मी शहीद हो गए।

Naxalites

झारखंड (Jharkhand) के चाईबासा के कराईकेला थाना अंतर्गत जोनों नामक गांव में पुलिस (Police) और नक्सलियों (Naxalites) के बीच भीषण मुठभेड़ हुई। इस घटना में गोली लगने से दो पुलिसकर्मी शहीद हो गए। वहीं, एक ग्रामीण भी नक्सलियों की गोली का शिकार हो गया। शहीद जवान का नाम लखिंद्र मुंडा और एसपीओ (SPO) सुंदर स्वरूप महतो है। शहीद जवान लखिंद्र मुंडा चक्रधपुर एएसपी के बॉडीगार्ड थे। दोनों को सीने में गोली लगी थी। दोनों को चक्रधपुर के अस्पताल लाया गया था। जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

अपने साथी पुलिसकर्मी के शहीद हो जाने के बाद जवानों ने अभियान और तेज कर दिया है। नक्सलियों की तलाशी में चारों तरफ से क्षेत्र की घेराबंदी कर दी गई है।  जानकारी के मुताबिक, पश्चिमी सिंहभूम जिले के नक्सल प्रभावित पोड़ाहाट जंगल के जोनुवां पहाड़ी गांव में 31 मई को नक्सलियों (Naxals) ने पुलिस पर हमला कर दिया।

बिहार: सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता, जमुई से भाकपा माओवादी का एरिया कमांडर गिरफ्तार

यह घटना दोपहर करीब 12 बजे की है। चक्रधरपुर एएसपी नक्सलियों की ओर से मछली भोज किए जाने की सूचना पर टीम के साथ गांव पहुंचे थे। पुलिस को देखते ही नक्सलियों (Naxalites) ने फायरिंग शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि एरिया कमांडर लादुरा मुंडा के नेतृत्व में यह दस्ता सुबह से ही गांव में मौजूद था। पास के तालाब में जाल लगाकर मछलियां पकड़ी।

इसके बाद अलग-अलग जगहों पर मछली-भात बनाया जा रहा था। पुलिस ने घटनास्थल से जाल, बर्तन आदि सामान बरामद किया है। कई ग्रामीणों को भी हिरासत में लिया गया है। चाईबासा के एसपी इंद्रजीत महथा के मुताबिक, नक्सली ग्रामीणों के घरों में छिपे थे। सर्च अभियान के दौरान ग्रामीणों से पूछताछ के दौरान उन्होंने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी।

हिंदी सिनेमा का एक और सितारा आज ग़ुरूब हो गया, साजिद-वाजिद की हिट जोड़ी टूट गई

एसपी ने बताया कि प्रतिबंधित भाकपा माओवादी संगठन के सदस्यों की गुप्त सूचना मिली थी। इसके बाद एक टीम का गठन किया गया। टीम का नेतृत्व एडिशनल एसपी प्रणव आनंद झा, एएसपी चक्रधरपुर नाथूसिंह मीणा और सुरक्षाबलों की टीम कर रही थी। अभियान के दौरान कराईकेला के जोनवा गांव पार करते वक्त पहले से घात लगाए नक्सलियों (Naxalites) द्वारा फायरिंग की गई।

इस दौरान नक्सलियों ने ग्रामीणों और उनके घर की आड़ का उपयोग किया। इस दौरान लखिंद्र मंडल और स्पेशल पुलिस ऑफिसर (SPO) सुंदर स्वरूप महतो को गोली लग गई। इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की लेकिन नक्सलियों ने गांव के बच्चों और महिलाओं का आड़ लिया। इसके चलते हमलोगों को जवाबी कार्रवाई के दौरान संतुलन बरतने की आवश्यकता महसूस हुई। हमारे लिए जनता की सुरक्षा सबसे पहले है।

एसपी महथा के अनुसार, तत्काल एक टीम बनाकर दोनों घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। एसपी के मुताबिक, कई बार पुलिस की टीम ने सर्च अभियान के दौरान गांवों को पार किया है लेकिन ये पहली बार है जब नक्सलियों ने ग्रामीणों के मकान को आड़ बनाया है। पुलिस का अभियान लगातार जारी है।

यह भी पढ़ें