झारखंड: दूसरे चरण के चुनाव से ठीक पहले नक्सलियों ने मचाया आतंक

झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 7 दिसंबर को होनेवाले मतदान से ठीक पहले 6 दिसंबर की रात करीब साढ़े दस बजे नक्सलियों (Naxals) ने विस्फोट व फायरिंग कर दहशत फैलाने की कोशिश की।

Naxals
फाइल फोटो।

यह घटना पश्चिमी सिंहभूम जिले के गोईलकेरा प्रखंड के कोइड़ा पंचायत के एक स्कूल के पास हुई। कोइड़ा स्कूल को दूसरे चरण के मतदान के लिए क्लस्टर बनाया गया है। यहां सीआरपीएफ की तीन कंपनियां चुनावी डयूटी को लेकर ठहरी हुई हैं। नक्सलियों (Naxals) की इस हरकत का जवाब देते हुए सीआरपीएफ जवानों ने पारा फायरिंग की। इससे पूरे क्षेत्र में तेज रोशनी हो गई। कोइड़ा के आसपास जंगल का इलाका है। स्कूल के बगल में पहाड़ है। बताया जाता है कि नक्सलियों (Naxals) ने पहाड़ के पीछे की ओर विस्फोट किया।

गांव वालों ने बताया कि पहली बार तेज विस्फोट के बाद तीन-चार ब्लास्ट की आवाजें और आईं थी। उधर, सोनुवा थाना क्षेत्र के झींगामर्चा और कुदाबुरू गांव क्षेत्र में भाकपा माओवादी के नक्सलियों (Naxals) ने बैनर टांगकर पोस्टरबाजी की है। 6 दिसंबर को झींगामर्चा गांव के चौक पर एक लाल बैनर टांगा हुआ था और कुछ पोस्टर भी रखे हुए थे। बैनर में पीएलजीए (PLGA) का स्थापना दिवस 2 से 8 दिसम्बर तक मनाने का आह्वान किया गया है। इसके साथ ही जल, जंगल, जमीन व तमाम अधिकारों के लिए पीएलजीए को भरपूर समर्थन करने की अपील की है।

झींगामर्चा के अलावा कुदाबुरू गांव के क्षेत्र में भी नक्सलियों (Naxals) ने पोस्टरबाजी की थी। जिसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने बैनर व पोस्टरों को जब्त कर लिया। बता दें कि भाकपा माओवादी नक्सली संगठन द्वारा पिछले कई दिनों से सोनुआ थानाक्षेत्र के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में बैनर टांगकर पोस्टरबाजी की जा रही है। जिसमें पीएलजीए (PLGA) का स्थापना दिवस दो से आठ दिसम्बर तक मनाने का आह्वान के साथ ही विधानसभा चुनाव का बहिष्कार का अपील किया गया जा रहा है। क्षेत्र में हुई लगातार पोस्टरबाजी से इन ग्रामीण क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल है।

पढ़ें: आतंकवाद-नक्सलवाद के खात्मे की तैयारी, CRPF करेगा युवा-तंदरुस्त जवानों की तैनाती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here