बकरीद पर जम्मू-कश्मीर को दहलाने की साजिश, अलर्ट पर सुरक्षाबल

रिपोर्ट के अनुसार, कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में ये फिदायीन आतंकी हमले को अंजाम दे सकते हैं। जानकारी के अनुसार, भारतीय एजेंसियों की खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि आईएसआई ने इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) को दी है।

Ig police jammu and kashmir,Jaish-e-Mohammed jammu and kashmir, rahul gandhi, sp pani, no firing incidents, article 370, security forces, Jammu, sirf sach, sirfsach.in, अनुच्छेद 370, जम्मू-कश्मीर, ईद-उल-अजहा, जैश-ए-मोहम्मद, राहुल गांधी, जम्मू-कश्मीर पुलिस, गृह मंत्रालय, कश्मीर के आईजी पुलिस एसपी पाणि, नरेंद्र मोदी, सिर्फ सच

ईद-उल-अजहा के मौके पर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने कश्मीर में आतंकी हमले को अंजाम देने की योजना बनाई है।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही आतंकियों द्वारा कश्मीर में माहौल खराब करने की लगातार कोशिशें की जा रही हैं। खबर है कि ईद-उल-अजहा के मौके पर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने कश्मीर में आतंकी हमले को अंजाम देने की योजना बनाई है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही घाटी को लेकर तमाम अफवाहें चल रही हैं। इस बीच 11 अगस्त को कश्मीर में हालात सामान्य नजर आए। धारा 144 हटने के बाद लोग घरों से बाहर आए। लेकिन इसके साथ ही आईबी ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि जैश-ए-मोहम्मद के फिदायीन आतंकी बकरीद के त्योहार पर हमले की बड़ी साजिश रच रहे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में ये फिदायीन आतंकी हमले को अंजाम दे सकते हैं। जानकारी के अनुसार, भारतीय एजेंसियों की खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि आईएसआई ने इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) को दी है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने इसके लिए जैश कमांडर असगर रऊफ से रावलपिंडी में मीटिंग भी की है। आईएसआई ने मीटिंग में फिदायीन हमलावरों को तैयार करने को कहा था। खुफिया रिपोर्ट की मानें तो, दो दिन पहले जैश-ए-मोहम्मद के 6-7 आतंकियों के समूह ने घाटी में घुसपैठ की है। बताया जा रहा है कि ये सभी आतंकी फिदायीन हमलावर हैं और सेना की वर्दी में हमले को अंजाम दे सकते हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, कश्मीर में लगातार सुधर रहे हालातों को बिगाड़ने के लिए इस हमले की साजिश रची गई है। आईएसआई ने इन जैश आतंकियों को दक्षिणी कश्मीर में बड़े फिदायीन आतंकी हमले के लिए भेजा है। इन सबके मद्देनजर सुरक्षाबलों को अलर्ट कर दिया गया है। इलाके में हर तरफ कड़ी निगरानी रखी जा रही है। इसी के साथ जम्मू-कश्मीर सरकार के प्रवक्ता और राज्य के प्रमुख सचिव रोहित कंसल ने कश्मीर के ताजा हालातों पर कहा, “धारा 144 हटने के बाद लोग आ-जा रहे हैं। ईद के लिए सामान खरीद रहे हैं। जो लोग श्रीनगर ट्रैवल करना चाहते हैं, उनके लिए सुविधाएं दी जा रही हैं। बड़ी संख्या में लोग बाहर आ रहे हैं। कश्मीर में सब सही है। मैं सबको ईद की बधाई देता हूं। शांति रहे, लोग खुश रहें।”

पढ़ें: घाटी में सब शांति-शांति है, एक हफ्ते से नहीं चली एक भी गोली

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App