जम्मू-कश्मीर के इन बच्चों ने CRPF को कहा- थैंक यू, इस पहल ने बदली छात्रों की जिंदगी

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने 4 मार्च को नई दिल्ली में जम्मू-कश्मीर के स्कूली छात्रों के एक समूह से मुलाकात की। 22 छात्रों की यह टीम केंद्रीय गृह मंत्रालय के तत्वावधान में सीआरपीएफ (CRPF) द्वारा आयोजित भारत दर्शन दौरे के अंतिम चरण में दिल्ली पहुंची थी।

CRPF
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने नई दिल्ली में जम्मू-कश्मीर के स्कूली छात्रों के एक समूह से मुलाकात की।

इन छात्रों ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के साथ अपने चेन्नई दौरे के अनुभव को साझा किया। साथ ही उन्होंने सीआरपीएफ (CRPF) को इसके लिए धन्यवाद दिया। इस मौके पर सीआरपीएफ के महानिदेशक डॉ. ए पी माहेश्वरी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। इससे पहले छात्रों के इस दल ने नई दिल्ली स्थित सीआरपीएफ (CRPF) के हेडक्वार्टर में डॉ. माहेश्वरी से मुलाकात की। उन्होंने डॉ. माहेश्वरी के साथ इस एक्सपोजर टूर के बारे में विस्तार से चर्चा की।

बता दें कि इस दल में अधिकतर छात्र गरीब तबके के हैं। यह उनके जीवन में इस तरह का पहला अनुभव है। ये सभी छात्र इस दौरान काफी उत्साहित थे। एक छात्र ने इस टूर के संबंध में अपना अनुभव साझा करते हुए कहा, “मैं जम्मू-कश्मीर के एक छोटे से गांव से हूं। मैं सोचता था कि भारत सिर्फ एक गांव के बराबर ही है। लेकिन जम्मू-कश्मीर से बाहर निकलकर चेन्नई और दिल्ली की अपने जीवन की पहली यात्रा के दौरान मुझे पता चला कि हमारा देश केवल एक गांव के बराबर नहीं, बल्कि यह अपने आप में एक पूरी दुनिया है।”

दंगाईयों ने जला दिया था रिटायर्ड कर्मी अलीश मोहम्मद का घर, CRPF ने आर्थिक मदद देकर निभाया फर्ज

सीआरपीएफ (CRPF) को धन्यवाद देते हुए इन छात्रों ने अपनी पढ़ाई पर ध्यान देने और देश प्रेम को बढ़ावा देने का वादा किया। यह भारत दर्शन एक्सपोजर टूर का आखिरी ग्रुप था। छात्रों के इस 18वें और अंतिम समूह को भारत दर्शन एक्सपोजर टूर पर चेन्नई और दिल्ली ले जाया गया था। इससे पहले, 14-18 साल के आयु वर्ग के छात्रों का अलग-अलग बैच मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद, बेंगलुरु और नई दिल्ली जैसे स्थानों का दौरा कर चुका है।

गौरतलब है कि भारत दर्शन एक्सपोजर टूर का यह कार्यक्रम दिसंबर, 2019 में शुरू किया गया था। इस टूर के माध्यम से जम्मू-कश्मीर के ग्रामीण इलाकों के गरीब परिवारों से ताल्लुक रखने वाले 800 से अधिक छात्रों का देश की सामाजिक और सांस्कृतिक विविधता और ऐतिहासिक विरासत से परिचय कराया गया है। भारत दर्शन यात्रा का मकसद कश्मीरी छात्रों को देश की समृद्ध सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक विरासत से अवगत कराना है, ताकि आगे चलकर वे शांति का संदेश समाज में पहुंचा सकें।

बता दें कि CRPF भारत दर्शन यात्रा और MADADGAR के टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 14411 जैसे विभिन्न आउटरीच कार्यक्रमों के जरिए जम्मू-कश्मीर की आम जनता के साथ जुड़ा है। जरूरत पड़ने पर हर समय CRPF लोगों की मदद के लिए तत्पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here