जम्मू कश्मीर: 3 जवानों के शहीद होने के डेढ़ घंटे बाद ही सुरक्षाबलों ने लिया बदला, 3 आतंकी ढेर

Jammu Kashmir: सुरक्षाबलों ने छुपे हुए 3 आतंकियों को मार गिराया। मिली जानकारी के मुताबिक ये आतंकी लश्कर ए तैयबा (Lashkar-e-Taiba) से जुड़े हुए थे।

Pakistan

सांकेतिक तस्वीर

इस हमले में जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) पुलिस के जिस जवान को गोली लगी, वह स्पेशल पुलिस ऑफीसर थे। इसके अलावा CRPF के दो जवानों को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका था। शहीद CRPF जवानों के नाम खुर्शीद खान (41), जीडी शर्मा लवकुश सुदर्शन (27) है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के बारामूला (Baramulla) में सुरक्षाबलों ने डेढ़ घंटे में ही अपने जवानों की शहादत का बदला ले लिया।

सुरक्षाबलों ने छुपे हुए 3 आतंकियों को मार गिराया। मिली जानकारी के मुताबिक ये आतंकी लश्कर ए तैयबा (Lashkar-e-Taiba) से जुड़े हुए थे।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के बारामूला के क्रिरी क्षेत्र में आतंकियों ने CRPF और जम्मू कश्मीर पुलिस की ज्वाइंट नाका पार्टी पर हमला कर दिया था, जिसमें 3 जवान शहीद हो गए थे।

इनमें 2 CRPF के और एक जम्मू कश्मीर पुलिस का जवान था। इस हमले में जम्मू कश्मीर पुलिस के जिस जवान को गोली लगी, वह स्पेशल पुलिस ऑफीसर थे। इसके अलावा CRPF के दो जवानों को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका था। शहीद CRPF जवानों के नाम खुर्शीद खान (41), जीडी शर्मा लवकुश सुदर्शन (27) है।

इस वाकये के बाद सुरक्षाबल सर्च ऑपरेशन चला रहे थे और आतंकियों को ढूंढ रहे थे। मिले इनपुट के आधार पर सुरक्षाबलों ने घेराबंदी की और तलाशी अभियान शुरी किया। इस दौरान छुपे हुए आतंकियों ने एक घर से फायरिंग शुरू कर दी, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब दिया और 3 आतंकियों को ढेर कर दिया।

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर में हिमस्खलन का शिकार हुआ था जवान, 220 दिन बाद बरामद हुआ पार्थिव शरीर

बता दें कि आतंकियों ने इससे पहले श्रीनगर के बाहरी इलाके नागम में 14 अगस्त को एक पुलिस पार्टी पर हमला किया था। इस हमले में भी 2 जवान शहीद हो गए थे और एक जवान घायल हुआ था। मिली जानकारी के मुताबिक इस हमले में आतंकी संगठन जैश का हाथ था।

जानकारी के मुताबिक, 14 अगस्त की सुबह श्रीनगर के बाहरी इलाके में नौगाम बाईपास पर पुलिस पार्टी पर हमला किया गया। जम्मू-कश्मीर पुलिस के IG विजय कुमार के मुताबिक, इस आतंकी हमले (Terrorist Attack) के पीछे जैश ए मोहम्मद का हाथ है। इससे पहले, बारामूला के सोपोर में एक सेना की टुकड़ी पर हमला किया गया था, जिसमें एक जवान घायल हुआ था।

आतंकियों ने सेना-CRPF और जम्मू-कश्मीर पुलिस की संयुक्त पार्टी पर हमला (Terrorist Attack) किया था। आतंकियों की ओर से लगातार गोलीबारी की गई, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाब दिया। इस दौरान आतंकी भागने में सफल हुए थे। हालांकि, सुरक्षाबल पूरी मुस्तैदी से आतंकियों के नापाक इरादों को नाकाम करने की कोशिश में लगे हुए हैं। सुरक्षाबलों की ओर से लगातार आतंकियों को ढूंढ-ढूंढकर ठिकाने लगाया जा रहा है।

ये भी देखें- 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें