जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में एनकाउंटर, सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया; सीआरपीएफ का जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा में एंटी-टेरर ऑपरेशन के दौरान भारतीय सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ (Terrorist Encounter) हो गई। पुलवामा के बांदजू में हुई इस मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने 23 जून की सुबह दो आतंकियों को मार गिराया।

Terrorist Encounter

पुलवामा के बांदजू में मुठभेड़।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा में एंटी-टेरर ऑपरेशन के दौरान भारतीय सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ (Terrorist Encounter) हो गई। पुलवामा के बांदजू में हुई इस मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने 23 जून की सुबह दो आतंकियों को मार गिराया, वहीं सीआरपीएफ (CRPF) का एक जवान भी शहीद हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, सुरक्षाबलों को यह सूचना मिली थी कि पुलवामा के बांदजू गांव के एक घर में आतंकी (Terrorists) छिपे हुए हैं। सूचना के आधार पर स्थानीय पुलिस (Police), सेना (Army) और सीआरपीएफ (CRPF) की टीम ने ऑपरेशन लॉन्च किया। जैसे ही सुरक्षाबलों ने मौके पर पहुंच कर संदिग्ध स्थान का घेराव किया, आतंकियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कारवाई की, जिसमें 2 आतंकी मार गिराए गए।

India China Faceoff: महज 23 साल की उम्र में पंजाब के गुरतेज सिंह ने देश पर लुटा दी जान

हालांकि, इस मुठभेड़ (Terrorist Encounter) में हमने अपने एक सीआरपीएफ के जवान को खो दिया। इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है। कश्मीर जोन के IG विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में अब तक दो आतंकवादी मारे गए हैं। इससे पहले 22 जून को दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के वेरीनाग जंगल में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ (Terrorist Encounter) हुई थी। सुरक्षाबलों को जंगल में आतंकियों के छिपे होने का इनपुट मिला था, जिसके बाद यह मुठभेड़ हुई।

22 जून को ही पुलवामा के त्राल सेक्टर के बाटगुंड के सीआरपीएफ (CRPF) कैंप के पास फायरिंग के बीच ग्रेनेड से हमला किया गया था। ग्रेनेड हमले से पहले जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले में अज्ञात बंदूकधारियों ने बीती देर रात ढोक डिफेंस कमेटी (डीडीसी) के सदस्य गोपालनाथ को गोली मार दी थी। बता दें कि घाटी में आतंकियों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई से आतंकी बौखलाए हुए हैं। वो सुरक्षाबलों पर हमला कर रहे हैं और कायराना हरकतों को अंजाम दे रहे हैं।

हालांकि, आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जोरों पर है। पिछले चार महीने में अब तक 100 से अधिक आतंकी मारे जा चुके हैं। सुरक्षाबलों से हुए मुठभेड़ (Terrorist Encounter) के दौरान दक्षिण कश्मीर में 4 आतंकी, शोपियां जिले में एक आतंकी और श्रीनगर के जादिबल में 3 आतंकी मारे जा चुके हैं। मारे गए आतंकियों में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद, हिज्बुल मुजाहिदीन और अंसार गजवात-उल-हिंद के कई कमांडर शामिल हैं।

यह भी पढ़ें