Jammu-Kashmir: पुलवामा में जैश आतंकियों के 4 मददगार गिरफ्तार, आश्रय और साजो-सामान करा रहे थे मुहैया

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) जिले में पुलिस ने 12 मई को जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के आतंकवादियों के चार मददगारों को गिरफ्तार कर लिया।

Terrorists

पुलवामा में जैश आतंकियों के 4 मददगार गिरफ्तार। (सांकेतिक तस्वीर)

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) जिले में पुलिस ने 12 मई को जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के आतंकवादियों के चार मददगारों को गिरफ्तार कर लिया। इस संबंध में एक पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक, गिरफ्तार लोग ख्रू और त्राल के जंगली क्षेत्र में जैश-ए-मोहम्मद के सक्रिय आतंकवादियों (Terrorists) को आश्रय, साजो-सामान और अन्य तरह की मदद उपलब्ध करवाने का काम करते थे।

गिरफ्तार लोगों की पहचान शबीर अहमद, शीराज अहमद डार, शफात अहमद मीर और इशफाक अहमद शाह के रूप में हुई है। ये चारों अवंतीपोरा, पुलवामा के ख्रू क्षेत्र के बाठेन के रहने वाले हैं। प्रवक्ता के अनुसार, इन लोगों के पास से विस्फोटक सामग्री और अन्य चीजें बरामद हुई हैं। बता दें कि आतंकियों (Terrorists) के खिलाफ सुरक्षाबलों का ऑपरेशन जारी है।

कोरोना से सबसे ज्यादा देश के श्रमिक पीड़ित, सरकार के सर पर मंडरा रहा देशव्यापी आंदोलन का खतरा

इससे पहले पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन (Hizbul Mujahideen) के कमांडर रियाज नाइकू (Riyaz Naikoo) के एक करीबी हिलाल अहमद वागाय के दो साथियों को गिरफ्तार किया था। गौरतलब है कि नाइकू की 6 मई को दक्षिण कश्मीर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मौत हो गई थी।

पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार लोगों के नाम बिक्रम सिंह और मनिंदर सिंह हैं और ये दोनों अमृतसर जिले के रहने वाले हैं। पंजाब के पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने एक प्रेस बयान में कहा कि कश्मीर (Kashmir) में सुरक्षाबलों द्वारा 6 मई को मारे गए हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज अहमद नायकू (Riyaz Naikoo) के नजदीकी हिलाल अहमद वागे के दो साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। पुलिस ने उनके पास से एक किलो हेरोइन और 32 लाख रुपए की नकदी बरामद की है।

डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आतंकी (Terrorist) हिलाल अहमद से हुई पूछताछ के बाद अमृतसर के गुरु रामदास एवेन्यू के रहने वाले बिकरम सिंह उर्फ विक्की और उसके साथी मनिंदर सिंह उर्फ मनी को गिरफ्तार किया गया है। बयान में कहा गया है कि केन्द्र सरकार के निर्देश पर अब इस मामले की आगे की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) करेगी।

यह भी पढ़ें