Jammu-Kashmir: पुलवामा में CRPF के बंकर पर आतंकियों ने फेंका पेट्रोल बम

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) जिले में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर 20 जनवरी को पेट्रोल बम फेंक दिया। हालांकि, घटना में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि यह बम 20 जनवरी की शाम पुलवामा के नेवा में सीआरपीएफ (CRPF) के बंकर की तरफ फेंका गया था।

Jammu-Kashmir
फाइल फोटो।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा जिले में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर 20 जनवरी को पेट्रोल बम फेंक दिया। हालांकि, घटना में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि यह बम 20 जनवरी की शाम पुलवामा के नेवा में सीआरपीएफ (CRPF) के बंकर की तरफ फेंका गया था। उन्होंने बताया कि विस्फोट में कोई हताहत नहीं हुआ है। इससे पहले, शोपियां जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिद्दीन (Hizb-ul-Mujahideen) के तीन आतंकवादी मारे गए।

मारे गए आतंकियों में पुलिस का एक भगोड़ा भी शामिल है। एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, ‘आतंकवादियों के मौजूद होने की गोपनीय सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने शोपियां जिले के वाची क्षेत्र में घेराबंदी करके तलाश अभियान शुरू किया। उन्होंने बताया कि आतंकवादियों (Terrorists) से आत्मसमर्पण करने को कहा गया, लेकिन उन्होंने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं। जिसके बाद दोनों ओर से मुठभेड़ शुरू हो गई। इस मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिद्दीन (Hizb-ul-Mujahideen) के तीन आतंकवादी (Terrorists) मारे गए।’

जानकारी के अनुसार, मारे गए आतंकवादियों में से एक आदिल शेख है। वह शोपियां का ही रहने वाला था। आतंकी आदिल जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) पुलिस में एसपीओ के पद पर भी रह चुका था। जहां से भाग कर वह आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो गया था। उसने 29 सितंबर, 2018 को जवाहर नगर श्रीनगर से पीडीपी के तत्कालीन विधायक अजाज मीर के घर से 8 हथियार लूटे थे। दूसरा आतंकी वसीम वानी है। वह भी शोपियां का ही रहने वाला था। तीसरे आतंकी की पहचान जहांगीर मलिक के रूप में हुई है। वह पुलवामा जिले के अचेन इलाके का रहने वाला था।

पढ़ें: 15 दिन में 7 आतंकी ढेर, J&K के डीजीपी का बयान- हिजबुल का खात्मा जल्द

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here