पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में फिर उठाया कश्मीर का मुद्दा, खत लिख राज्य के पुनर्गठन का किया विरोध

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और राज्य के पुनर्गठन से बौखलाए पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव और सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष को पत्र लिखा है। इसमें कुरैशी ने जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन को खारिज किए जाने की मांग की है।

Jammu-Kashmir
पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (फाइल फोटो)।

पाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने एक बयान जारी कर कहा कि कश्मीर मसले को उठाने की कोशिश के तहत विदेश मंत्री ने 31 अक्टूबर को यह पत्र लिखा था। अन्य बातों के अलावा इसमें पाकिस्तान द्वारा जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुनर्गठन को खारिज किए जाने की बात दोहराई गई है। इसमें ‘यूएन मिलिट्री ऑब्जर्वर ग्रुप इन इंडिया एंड पाकिस्तान’ (यूएनएमओजीआइपी) को मजबूत बनाने का आह्वान भी किया गया है।

हालांकि भारत का कहना है कि जनवरी, 1949 में स्थापित यूएनएमओजीआइपी अपनी उपयोगिता खो चुका है और शिमला समझौते और नियंत्रण रेखा (एलओसी) की स्थापना के बाद अप्रासंगिक हो चुका है। गौरतलब है कि आए दिन पाकिस्तान, जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) पर कोई न कोई हरकत करता रहता है। कई पाकिस्तानी मंत्रियों के उटपटांग बयान भी पिछले दिनों सामने आए थे।

इसके अलावा पाकिस्तान ने सभी अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर का मुद्दा उठा कर विश्व-बिरादरी में गुटबाजी करने की कोशिश भी की। पाकिस्तान को इसमें नाकामी ही हाथ लगी। दुनिया के ज्यादातर देशों ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के मुद्दे पर भारत का साथ दिया। साथ ही भारत भी हर बार साफ शब्दों में कहता आया है कि जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) हमारा आंतरिक मामला है। लेकिन फिर भी पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज आने का नाम नहीं ले रहा।

पढ़ें: देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को दुनिया कहती थी आयरन लेडी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here