जम्मू-कश्मीर: आतंकवाद के खिलाफ सुरक्षाबलों का बड़ा ऑपरेशन, गांवों में ली जा रही तलाशी

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आतंकवाद (Terrorism) के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जारी है। सुरक्षाबलों ने 18 मई की सुबह पुलवामा के कई गांवों में सर्च ऑपरेशन चलाया।

Terrorists

सुरक्षाबलों ने 18 मई की सुबह पुलवामा के कई गांवों में सर्च ऑपरेशन चलाया।(फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आतंकियों (Terrorists) के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जारी है। सुरक्षाबलों ने 18 मई की सुबह पुलवामा के कई गांवों में सर्च ऑपरेशन चलाया। 55 राष्ट्रीय राइफल्स, 53 आरआर, 23 पैरा, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG), सीआरपीएफ (CRPF) की 182 और 183वीं बटालियन की ओर से पांच गावों में सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

रिपोर्ट के अनुसार, तलाशी अभियान रहमू, गूसू, मुर्रन, अश्मिंदर समेत कुछ गांवों में चलाया जा रहा है। इस तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने हर घर की तलाशी ली। हालांकि, अभी कंफर्म नहीं है कि सुरक्षाबलों का यह अभियान किसी इनपुट के आधार पर है या फिर सामान्य प्रक्रिया का हिस्सा।

Jammu-Kashmir: डोडा जिले में मुठभेड़, हिज्बुल के दो आतंकी ढेर; सेना का एक जवान शहीद

बता दें कि डोडा जिले में 17 मई को सुरक्षाबलों और आतंकियों (Terrorists) के बीच मुठभेड़ (Encounter) हो गई। जिसमें 2 आतंकी मारे गए जबकि 1 जवान भी शहीद हो गया। डोडा पुलिस और सेना (Army) की टीम को एक खुफिया सूचना मिली थी की कुलगाम कश्मीर का रहने वाला हिजबुल मुजाहिदीन (Hizbul Mujahideen) का आतंकी फारुख डोडा में आया हुआ है।

इसी सूचना के आधार पर देर रात जम्मू-कश्मीर पुलिस सेना की आरआर बटालियन और केंद्रीय रिजर्व पुलिस (CRPF) के जवानों ने डोडा के गुंदना इलाके को घेर लिया। 17 मई तड़के आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच जैसे ही आमना-सामना हुआ दोनों तरफ से फायरिंग शुरू हो गई। मारे गए एक आतंकी (Terrorist) की पहचान ताहिर अहमद बट के रूप में हुई थी, जबकि दूसरे आतंकी की पहचान अभी तक नहीं हो पाई।

COVID-19: भारत में कोरोना संक्रमण के आंकड़े डराने वाले, पिछले 24 घंटों में टूटे अब तक के रिकॉर्ड

दरअसल, कमांडर रियाज नायकू (Riyaz Naikoo) के मारे जाने के बाद से हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी घाटी में हमला करने की फिराक में हैं। लेकिन सुरक्षाबल उन्हें कामयाब होने नहीं दे रहे हैं। रियाज नायकू के मारे जाने के बाद से 10 टॉप आतंकी (Terrorists) सुरक्षाबलों के निशाने पर हैं। बता दें कि हिजबुल मुजाहिद्दीन के कश्मीर कमांडर रियाज नायकू के सफाए के बाद हिजबुल ने कश्मीर में अपना नया कमांडर बनाया है।

हिजबुल के इस नए कमांडर के साथ ही 3 और हिजबुल के आतंकी सुरक्षाबलों के निशाने पर हैं। जिन 10 आतंकियों (Terrorists) के सफाए का टारगेट है उसमें 4 हिजबुल के, 3 जैश के आतंकी शामिल हैं। सिक्यॉरिटी एजेंसी सूत्रों के मुताबिक अब जो आतंकी निशाने पर हैं उनमें हिजबुल का नया कमांडर सेफुल्ला है। आतंकी संगठन में इसका कोड नेम गाजी हैदर (Gazi Haider) है।

सेफुल्ला 8 अक्टूबर, 2014 को हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल हुआ। हिजबुल का दूसरा आतंकी जो हिट लिस्ट में है उसका नाम मोहम्मद अशरफ खान उर्फ अशरफ मौलवी हैं जो 9 सितंबर, 2016 से हिजुबल के साथ है। हिजबुल को दो और आतंकी (Terrorists) इस लिस्ट में है- जुनैद सहराई और अब्बास शेख।

यह भी पढ़ें