Jammu Kashmir: नगरोटा में एनकाउंटर, सुरक्षाबलों ने 4 आतंकियों को मार गिराया; 4 जवान घायल

जम्मू- कश्मीर (Jammu Kashmir) के नगरोटा (Nagrota) में 19 नवंबर की सुबह एक एनकाउंटर (Encounter) में सुरक्षाबलों ने 4 आतंकियों (Terrorists) को मार गिराया। जानकारी के मुताबिक, नगरोटा टोल प्लाजा के पास यह एनकाउंटर करीब ढाई घंटे तक चला।

Encounter

करीब ढाई घंटे चली मुठभेड़ (Encounter) के दौरान आतंकियों ने कई बार ट्रक से बाहर निकलने की कोशिश की। लेकिन ट्रक को चारों ओर से घेरे हुए सुरक्षाबलों के जवानों ने उन्हें बाहर नहीं निकलने दिया

जम्मू- कश्मीर (Jammu Kashmir) के नगरोटा (Nagrota) में 19 नवंबर की सुबह एक एनकाउंटर (Encounter) में सुरक्षाबलों ने 4 आतंकियों (Terrorists) को मार गिराया। जानकारी के मुताबिक, नगरोटा टोल प्लाजा के पास यह एनकाउंटर करीब ढाई घंटे तक चला।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह के मुताबिक, सांबा सेक्टर के जरिए जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकी भारत में घुसे। इसके बाद वे चावल की बोरियों से लदे एक ट्रक में सवार होकर पुलवामा-शोपियां जा रहे थे। बता दें कि जम्मू कश्मीर में जिला पंचायत चुनावों के चलते चौकसी काफी कड़ी है। इसलिए जगह-जगह नाकाबंदी करके वाहनों की जांच चल रही थी।

दिल्ली पुलिस की इस महिला सिपाही को सलाम, 3 माह में 76 गुमशुदा बच्चों को ढूंढकर स्थापित किया कीर्तिमान

19 नवंबर की सुबह 4 बजकर 45 मिनट पर आतंकियों को ले जा रहे इस ट्रक को जांच के लिए नगरोटा बन टोल पर जांच के लिए रोका गया। उसी दौरान ट्रक में छिपे आतंकियों ने पुलिस टीम पर ग्रेनेड से हमला कर दिया। आतंकी हमला होते पुलिस टीम ने ट्रक को चारों ओर से घेर लिया।

हमले की जानकारी मिलते ही पास की पोस्ट पर तैनात सेना भी तुरंत वारदात स्थाल पर पहुंच गई और आतंकियों के खिलाफ पोजिशन ले लिया गया। किसी अनहोनी को टालने के लिए जम्मू-कश्मीर राजमार्ग को वाहनों के आवागमन के लिए भी बंद कर दिया गया।

भारत की गलत जियो-टैगिंग करना ट्विटर को पड़ा भारी, लद्दाख के हिस्से को चीन में दिखाने के लिए मांगी लिखित में माफी

जानकारी के अनुसार, करीब ढाई घंटे चली मुठभेड़ (Encounter) के दौरान आतंकियों ने कई बार ट्रक से बाहर निकलने की कोशिश की। लेकिन ट्रक को चारों ओर से घेरे हुए सुरक्षाबलों के जवानों ने उन्हें बाहर नहीं निकलने दिया और हैवी फायरिंग कर उन्हें ट्रक में ही ढेर कर दिया।

मुठभेड़ के दौरान जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के 4 जवान मुठभेड़ में घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया। डीजीपी के मुताबिक, ये आतंकी विदेशी थे और यहां पंचायत चुनाव में हिस्सा लेने की तैयारी कर रहे नेताओं को निशाना बनाना चाहते थे।

ये भी देखें-

मारे गए आतंकियों के पास बड़ी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद किया गया है। फिलहाल आतंकियों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। आस-पास के इलाके में तलाशी अभियान जारी है। बता दें कि इस ऑपरेशन को CRPF की 160वीं और 137वीं बटालियन के साथ जम्मू-कश्मीर पुलिस के SOG के जवानों ने अंजाम दिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें