पाक आतंकियों के दिलो-दिमाग में बैठ रहा है भारतीय सेना का खौफ, पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों की मौत

सुरक्षाबलों के अथक प्रयास के बाद आतंकियों को ढूंढ निकाला गया। इसके बाद दोनों तरफ से तबातोड़ गोलियां चलने लगी और इसी मुठभेड़ में दूसरा आतंकी (Militant) भी ढेर हो गया।

Militant

Indian Army killed two Militant in an operation in Pulwama

जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना (Indian Army), सीआरपीएफ (CRPF) और जम्मू पुलिस के बहादुर जवानों की टीम लगातार पाकिस्तान पोषित आतंकियों को ठिकाने लगाने का काम कर रहे हैं। घाटी में आलम ये है कि चाहे कश्मीरी आतंकी (Militant) हो या विदेशी सभी अपने-अपने बिल में दुबके हुए हैं। पूरी घाटी में भारतीय सुरक्षाबलों की ऐसी मुस्तैदी देखने को मिल रही है कि यदि आतंकियों ने जरा सी भी गलती की और सीधे वो अपने हूरों के पास जन्नत रवाना हो जा रहे हैं।  कश्मीर के अवंतीपोरा स्थित त्राल-सिमोह इलाके में शुरू हुई मुठभेड़ में  जैश-ए-मोहम्मद को दो आतंकी (Militant) को मार गिराया गया। पुलिस-सुरक्षा बलों ने संयुक्त रूप से इस ऑपरेशन को अंजाम दिया। 

सुरक्षाबलों के सूत्रों के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले इलाके में जवानों ने खूफिया सूचना के आधार पर भारतीय सेना, सीआरपीएफ और जम्मू पुलिस के संयुक्त दल ने त्राल के साइमोह की पाम्पोश कॉलोनी को घेर लिया। तड़के जब इलाके को घेरा जा रहा था तब वहां छिपे आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच गोलीबारी हुई जिसमें एक आतंकवादी (Militant) मारा गया।

मध्य प्रदेश: बालघाट में बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में नक्सली, विस्फोटक सामग्री बरामद

खूफिया सूत्रों के अनुसार, दूसरे आतंकवादी (Militant) को पाम्पोशी कॉलोनी के रिहायशी इलाके की ओर भागते देखा गया जिसके बाद सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर कर सघन तलाशी अभियान चलाया। इस बीच जवानों ने रिहायशी इलाकों में रह रहे सभी लोगों को उनके घरों से सुरक्षित  निकाल लिया।

हालांकि इस दौरान सुरक्षाबलों को तलाशी अभियान में कोई सफलता हाथ नहीं लगी। लेकिन सुरक्षाबलों ने हार नहीं मानी और लगातार आतंकियों की तलाश में छानबीन करते रहे। इसी बीच मुठभेड़ स्थल पर करीब 40-50 स्थानीय लोग एकत्रित हो गए और सुरक्षाबलों पर पथराव करने लगे। इन लोगों का मकसद था सुरक्षाबलों को उलझा के आतंकियों को भागने का समय दिया जाय।

भीड़ को काबू करने के लिए सुरक्षाबलों फौरन आंसू गैसे के गोले छोड़े और लाठियां चलाई। जिसके बाद स्थिति को काबू में करके दोबारा तलाशी अभियान शुरू किया गया।

आखिरकार सुरक्षाबलों के अथक प्रयास के बाद आतंकियों को ढूंढ निकाला गया। इसके बाद दोनों तरफ से तबातोड़ गोलियां चलने लगी और इसी मुठभेड़ में दूसरा आतंकी (Militant) भी ढेर हो गया। मारे गए इन आतंकियों के पास से दो एके राइफल 5 एके मैगजीन, दो पिस्तौल और दो हैंडबम समेत भारी संख्या में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया। 

यह भी पढ़ें