जम्मू कश्मीर: लश्कर के 4 आतंकियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल, इस घटना में थे शामिल

परवेज अहमद चोपन, मुदासिर अहमद पंडित, मोहम्मद शफी शेख और बुरहान दीन वनी उर्फ बुरहान और आतंकियों (terrorists) के 3 गुर्गों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है।

Terrorists

सांकेतिक तस्वीर।

आतंकी (Terrorists) परवेज अहमद चोपन, मुदासिर अहमद पंडित, मोहम्मद शफी शेख और बुरहान दीन वनी उर्फ बुरहान और आतंकियों के तीन गुर्गों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है।

जम्मू कश्मीर: पुलिस ने मंगलवार को आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के 4 आतंकियों (Terrorists) और उनके गुर्गों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है। ये आरोप पत्र 3 अप्रैल को हंदवारा में हुई एक आतंकी घटना के सिलसिले में दाखिल हुआ है।

इस मामले में पुलिस ने कहा है कि आतंकियों के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (निवारण) अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत आरोपपत्र दाखिल किया गया है।

आतंकी परवेज अहमद चोपन, मुदासिर अहमद पंडित, मोहम्मद शफी शेख और बुरहान दीन वनी उर्फ बुरहान और आतंकियों के तीन गुर्गों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है।

ये भी पढ़ें- Coronavirus: भारत में कोरोना के मामले हुए 62 लाख से ज्यादा, 24 घंटे में आए 80,472 नए केस

बता दें कि घाटी में आतंकवाद एक प्रमुख समस्या है। इससे निपटने के लिए सुरक्षाबलों की ओर से लगातार अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन फिर भी आतंकी (Terrorists) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं।

जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) में आतंकवाद से जुड़े कुछ आंकड़े सामने आए हैं, जो चौंकाने वाले हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक साल 2019 में 140 युवकों ने आतंकवाद की तरफ रुख किया था, वहीं इस साल यानी 2020 में केवल 9 महीनों में ही 130 युवक आतंकी बने।

अधिकारियों के मुताबिक, 2020 में 130 युवक आतंकी बने, जिसमें 55 मारे गए हैं और 29 को पकड़े जाने का भी दावा किया गया है। इसमें से 46 आतंकियों की तलाश की जा रही है।

जिन आतंकियों को पकड़ा जाता है, उनमें ज्यादातर लोकल युवक हैं, विदेशी आतंकियों को सीधा ढेर करने की रणनीति है।

ये भी देखें- 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें