Jammu-Kashmir: बडगाम में ड्रग्स बेचने वाले आतंकी मॉड्यूल का खुलासा, कुपवाड़ा से आतंकी गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में बडगाम पुलिस ने 1 जून को ड्रग्स बेचने वाले आतंकी मॉड्यूल का खुलासा किया। खुफिया सूचना मिलने पर बडगाम पुलिस (Police) ने 50 राष्ट्रीय राइफल (55RR) और सीआरपीएफ (CRPF) के साथ मिलकर छह आतंकियों (Terrorists) को पकड़ लिया।

Terrorists

गिरफ्तार आतंकी के पास से बरामद हथियार।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में बडगाम पुलिस ने 1 जून को ड्रग्स बेचने वाले आतंकी मॉड्यूल का खुलासा किया। पुलिस ने बताया कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) से जुड़ा यह माड्यूल जिले के चाडूरा से काम कर रहा था। खुफिया सूचना मिलने पर बडगाम पुलिस (Police) ने 50 राष्ट्रीय राइफल (55RR) और सीआरपीएफ (CRPF) के साथ मिलकर छह आतंकियों (Terrorists) को पकड़ लिया।

गिरफ्तार आतंकियों (Terrorists) की पहचान करालपोरा निवासी मुदस्सिर फैयाज, वथूरा के शबरी गनी, कुपवाड़ा के इसाक भट और शोपियां के अर्शिद ठोकर के तौर पर हुई। छठे आतंकी का नाम फिलहाल पता नहीं चल सका है। उधर, कुपवारा पुलिस ने खुफिया सूचना के आधार पर एक आतंकी (Terrorist) को गिरफ्तार किया। उसके पास से 10 ग्रेनेड, 4 वायरलेस सेट और 200 गोलियां बरामद की गईं।

सेना के जवानों ने तीन आतंकियों को किया ढेर, कर रहे थे घुसपैठ की कोशिश

पुलिस आतंकी की साजिश के बारे में जानने के लिए उससे पूछताछ कर रही है। बता दें कि इंटेलिजेंस एजेंसियों ने सतर्क किया था कि जम्मू-कश्मीर में गड़बड़ी फैलाने के लिए पाकिस्तान से आतंकवादी (Terrorists) घुसपैठ हो सकती है। इसके बाद से सेना ने 28 मई से तलाशी अभियान शुरू कर दिया था।

इंटेलिजेंस एजेंसियों के मुताबिक पाकिस्तान की पोस्ट और गुरेज सेक्टर के दूसरी तरफ से आतंकियों (Terrorists) के दो ग्रुप घुसपैठ की फिराक में हैं। दूसरी तरफ माछिल सेक्टर के दूसरी तरफ से भी जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी घुसपैठ की कोशिश में हैं।

सेना के एक सीनियर अफसर के मुताबिक, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में एलओसी के पास 15 लॉन्च पैड में आतंकी जमा हैं। वे गर्मियों में कश्मीर में घुसपैठ तेज करने की कोशिश कर सकते हैं। आतंकियों (Terrorists) ने पिछले कुछ दिनों में हीरानगर और सांबा इलाके से घुसपैठ कर सांबा, कठुआ, जम्मू और नगरोटा के आर्मी कैंप और पुलिस स्टेशनों पर हमले किए हैं। ऐसे में जम्मू-पठानकोट हाईवे और बॉर्डर से सटे चेक-प्वॉइंट अलर्ट हैं।

यह भी पढ़ें