घाटी में कोरोना की दहशत: जम्मू-कश्मीर में यूके और इंडियन वैरियेंट मिलने से मचा हड़कंप

कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के मामलों में अचानक तेजी आई और मृतकों का भी आंकड़ा बढ़ने लगा तो उस दौरान भी लिए गए नमूने को जांच के लिए भेजा गया। जिसमें यूके संस्करण और इंडियन डबल म्यूटेंट संस्करण मिला।

Coronavirus

जम्मू–कश्मीर में कोरोना (Coronavirus) संक्रमण मामले और इससे होने वाली मौतों के आंकड़ों में आए उछाल ने यहां हड़कंप मचा दिया है। इसके कारणों को ढूंढने के लिए बनाई गई अपेक्स कमेटी की रिपोर्ट के मुताबिक यहां B.1.17 यूके स्वरूप के अलावा B.1.617 इंडियन डबल म्यूटेंट स्वरूप भी तेजी से फैल रहा है‚ जो बेहद घातक माना जा रहा है।

Sputnik V Vaccine: देश में अगले हफ्ते से बाजार में मिलने लगेगी रूसी वैक्सीन स्पूतनिक

कोरोना मरीजों से लिए गए नमूने में मौजूदा समय में जम्मू में इन दोनों स्वरूप के कई मामले पता चले हैं। इससे न केवल प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग परेशान है बल्कि स्थानीय लोगों में भी खौफ है।

सूत्रों के अनुसार, पिछले साल दिसम्बर से लेकर पिछले अप्रैल महीने तक कई बार कोरोना मरीजों के नमूने लिए गए। यह नमूने जम्मू के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल जीएमसी के अलावा श्रीनगर के सौरा स्थित स्कीम्स सरकारी अस्पताल से लिए गए थे।

पिछले अप्रैल महीने में जब प्रदेशभर में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के मामलों में अचानक तेजी आई और मृतकों का भी आंकड़ा बढ़ने लगा तो उस दौरान भी लिए गए नमूने को जांच के लिए भेजा गया। जिसमें यूके स्वरूप और इंडियन डबल म्यूटेंट स्वरूप मिला।

यूके स्वरूप के मामले अमेरिका व दुनिया के दूसरे मुल्कों में भी जब पाए गए तो इसे लेकर चेतावनी भी जारी की गई। ये अलग बात है कि भारत में उस समय बंगाल समेत कई राज्यों के चुनाव चल रहे थे। विपक्ष का आरोप है कि इस जानलेवा महामारी के यूके स्वरूप को लेकर सरकार की ओर से कोई पर्याप्त कदम नहीं उठाया गया, जिसके कारण इस महामारी ने पिछले साल की अपेक्षा मौजूदा समय में भारी तबाही मचाई है।

वहीं विशेषज्ञों का मानना है कि यूके स्वरूप व इंडियन डबल म्यूटेंट स्वरूप के मामले सामने आते ही शासन से लेकर स्वास्थ्य विभाग तक सभी ने बेहद कड़े एहतियाती कदम उठाने शुरू किए। जिसमें समूचे प्रदेश में आगामी सोमवार तक लगाया गया लॉकडाउन भी शामिल है।

विशेषज्ञों के अनुसार, यूके स्वरूप दिल्ली‚ मुंबई और पंजाब के अलावा देश के अन्य हिस्सों से यहां आने वाले यात्रियों के कारण फैला है। पड़ोसी राज्य पंजाब में यूके स्वरूप के अलावा इंडियन डबल म्यूटेंट स्वरूप के मामले बड़ी तादाद में सामने आए हैं।

इस महामारी को लेकर गठित अपेक्स लेवल एडवाइजरी कमेटी ने जम्मू के जीएमसी और घाटी के सौरा स्थित स्कीम्स अस्पताल से लिए गए नमूने को जांच के लिए भेजे तो उसमें यह भी सामने आया कि प्रदेश में कोरोना (Coronavirus) का कहर इन दो स्वरूप के कारण ही तेजी से फूटा है।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें