जम्मू कश्मीर: शोपियां में आतंकियों ने बरसाईं गोलियां, पुलिस इंस्पेक्टर परवेज अहमद शहीद

Jammu and Kashmir: ये घटना तब हुई जब इंस्पेक्टर परवेज अहमद कनीपोरा इलाके में नमाज पढ़कर वापस आ रहे थे। आतंकियों ने उन पर पीछे से हमला किया।

Terrorists

सांकेतिक तस्वीर।

Jammu and Kashmir: ये घटना तब हुई जब इंस्पेक्टर परवेज अहमद कनीपोरा इलाके में नमाज पढ़कर वापस आ रहे थे। आतंकियों ने उन पर पीछे से हमला किया और 3 गोलियां दागीं।

शोपियां: जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) में आतंकी गतिविधियां एक बार फिर तेज हो गई हैं। मंगलवार को दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों ने एक पुलिस इंस्पेक्टर पर हमला किया, जिसमें वह शहीद हो गए।

ये घटना तब हुई जब इंस्पेक्टर परवेज अहमद कनीपोरा इलाके में नमाज पढ़कर वापस आ रहे थे। आतंकियों ने उन पर पीछे से हमला किया और 3 गोलियां दागीं।

इंस्पेक्टर परवेज को हॉस्पिटल ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। बता दें कि परवेज जम्मू कश्मीर के सीआईडी विंग के साथ जुड़े थे।

Chhattisgarh: 40 लाख के इनामी कुख्यात नक्सली नेता हरिभूषण की कोरोना से मौत

बता दें कि बीते कुछ दिनों से शोपियां जिले में आतंकियों द्वारा लगातार सुरक्षाबलों को निशाना बनाया जा रहा है। मंगलवार से पहले शोपियां के बाबापोरा इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के नाका पार्टी पर हमला किया था। हालांकि इस हमले में किसी को भी नुकसान पहुंचने की खबर नहीं आई थी।

आतंकियों के हमले के बाद सेनाओं की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई की गई। जिसके बाद आतंकी बचकर भाग निकले। बता दें कि बीते शुक्रवार को भी आतंकियों की तरफ से सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गई थी, मगर वो उसमें भी नाकाम रहे थे।

इन हमलों के पीछे जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक हलचल तेज होने को भी बड़ी वजह बताई जा रही है। दरअसल गुरुवार 24 जून को प्रधानमंत्री की ओर से दिल्ली में ऑल पार्टी मीटिंग बुलाई गई है, और जम्मू कश्मीर के सभी नेताओं को आमंत्रित किया गया है। वहीं बीते मंगलवार को गुपकार गुट ने मीटिंग कर दिल्ली जाने का ऐलान भी कर दिया है और सभी नेताओं ने प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के सामने जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को वापस से कायम करने पर अपना पक्ष मजबूती से रखने की बात कही है। बताते चलें कि हुर्रियत और आतंकवादी संगठन दिल्ली से किसी भी तरह की बातचीत के विरोधी रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें