जैश-ए-मोहम्मद का वांटेड आतंकी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के हत्थे चढ़ा

फरवरी, 2007 में दिल्ली पुलिस ने बशीर अहमद, फैयाज अहमद लोन और अब्दुल मजीद बाबा को एक पाकिस्तानी आतंकी शाहिद गफूर संग दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर पकड़ा था। पुलिस ने दावा किया था कि ये सभी एक संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद पकड़े गए हैं।

Jaish-e-Mohammed, Jem terrorist basir ahmad, Delhi Police arrested JeM terrorist Basir Ahmad from Jammu And Kashmir crime, jammu, jammu kashmir, delhi police special cell, sirf sach, sirf sach.in

जैश-ए-मोहम्मद का वांटेड आतंकी बशीर अहमद गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी बशीर अहमद को गिफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। स्पेशल सेल ने आतंकी बशीर की गिरफ्तारी 15 जुलाई शाम को जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर से की। एक मामले में आतंकी बशीर की स्पेशल सेल को कई सालों से तलाश थी। उस पर 2 लाख का इनाम भी घोषित किया गया था। इसके दो और साथियों को दिल्ली पुलिस ने इसी साल गिरफ्तार किया था। इनके नाम फैयाज और मजीद बाबा हैं। जानकारी के मुताबिक, गुप्त सूचना के आधार पर दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने बशीर अहमद को श्रीनगर से गिरफ्तार किया। गिरफ्तारी के बाद लगातार उससे पूछताछ की जा रही है।

गौरतलब है कि इससे पहले 2007 में भी दिल्ली पुलिस के साथ एनकाउंटर के दौरान बशीर गिरफ्तार हुआ था। लेकिन मुकदमा चलने के बाद निचली अदालत से बरी हो गया था। इसके बाद दिल्ली हाई कोर्ट ने इसे सजा सुनाई थी। कुछ सालों बाद इस मामले में जमानत मिलने के बाद बशीर हाई कोर्ट में पेश नहीं हो रहा था। इसके बाद कोर्ट ने उसके खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किया था। दरअसल फरवरी, 2007 में दिल्ली पुलिस ने बशीर अहमद, फैयाज अहमद लोन और अब्दुल मजीद बाबा को एक पाकिस्तानी आतंकी शाहिद गफूर संग दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर पकड़ा था। पुलिस ने दावा किया था कि यह सभी एक संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद पकड़े गए हैं।

पढ़ें: भारतीय सेना का वह जांबाज ब्रिगेडियर जिसके सिर पर पाकिस्तान ने रखा था 50 हजार का इनाम

पुलिस ने इन चारों के कब्जे से एक पिस्तौल, 50 हजार रुपये की भारतीय करंसी और कुछ जाली अमेरिकी डॉलर पकड़े थे। तीनों दिल्ली में किसी बड़ी साजिश को अंजाम देना चाहते थे। 7 अगस्त, 2013 को दिल्ली की एक अदालत ने शाहिद गफूर को सजा सुनाई थी और बशीर, फैयाज और अब्दुल मजीद को रिहा कर दिया था। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट ने बशीर, फैयाज और अब्दुल मजीद को भी दोषी करार देते हुए सजा सुनाई। लेकिन यह तीनों फरार हो गए और कश्मीर में आकर अपना कामकाज करने लगे। दिल्ली पुलिस ने कई बार इनके लिए नोटिस जारी किया, लेकिन ये हाजिर नहीं हुए।

इस पर पुलिस ने तीनों को दो-दो लाख रुपये का इनामी घोषित कर दिया। फैयाज और अब्दुल मजीद को दिल्ली पुलिस पहले ही श्रीनगर से पकड़ चुकी है। जानकारी के अनुसार, आतंकियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबलों ने उत्तरी कश्मीर में दो जगह तलाशी अभियान चलाया। इसी कड़ी में बिछरवारा कुपवाड़ा और हाजिन बांडीपोर में भी तलाशी ली गई। इसी दौरान जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी बशीर अहमद पन्नू को श्रीनगर में पकड़ लिया गया।

पढ़ें: अच्छी खबर! पिछले 5 साल में टूटी नक्सलवाद की कमर, जरूरी है मगर चौकसी

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App