जैश-ए-मोहम्मद ने बदला लेने की धमकी दी, निशाने पर पीएम मोदी, अमित शाह और NSA डोभाल

Jaish-e-mohammad, जैश-ए-मोहम्मद, pakistan, pm narendra modi, ajit doval, terrorism, jaish special squad, balakot air strike, uri surgical strike, article 370 scrapped, sirf sach. sirfsach.in, सिर्फ सच
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजिल डोभाल आतंकियों के निशाने पर।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाने के सरकार के फैसले के खिलाफ आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने बदला लेने की धमकी दी है। खुफिया एजेंसियों ने जम्मू-कश्मीर और उसके आस-पास के इलाकों में स्थित सैन्य प्रतिष्ठानों पर आत्मघाती हमले का अलर्ट जारी किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजिल डोभाल आतंकियों के निशाने पर हैं। खुफिया सूत्रों के मुताबिक, जैश ने देश के 30 बड़े शहरों पर भी हमले की धमकी दी है। इन शहरों में जम्मू, पठानकोट, अमृतसर, जयपुर, गांधीनगर, कानपुर और लखनऊ शामिल हैं। 30 शहरों के साथ ही चार हवाई अड्डों पर भी हमला करने की धमकी दी गई है।

जानकारी के अनुसार, जैश-ए-मोहम्मद के आठ से 10 आतंकी जम्मू-कश्मीर और उसके आस-पास स्थित भारतीय वायुसेना के ठिकानों पर आत्मघाती हमला कर सकते हैं। जिसके बाद कई सैन्य प्रतिष्ठानों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। खुफिया एजेंसियों के अलर्ट के बाद वायुसेना ने उत्तर भारत के अपने पांच एयरबेस श्रीनगर, अवंतिपोरा, जम्मू, पठानकोट और हिंडन एयरबेसों में हाईअलर्ट जारी कर दिया है। एयरफोर्स के सीनियर अधिकारियों को वायुसेना स्टेशन की सुरक्षा की समीक्षा करने को कहा गया है। वायुसेना के बड़े अधिकारी हर स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। संभावित खतरों से निपटने के लिए सेना, वायुसेना और स्थानीय पुलिस की मदद ली जा रही है।

पढ़ें: कांकेर में नक्सली हमला, आईईडी ब्लास्ट से 3 लोगों की मौत

जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पर हमला करने के लिए आतंकियों का एक विशेष दस्ता तैयार कर कर रहा है। जैश-ए-मोहम्मद जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का बदला लेने के लिए भारत में बड़ा हमला करने की फिराक में है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI भारत में हमले के लिए सीमा पार से आतंकियों को भारत में घुसपैठ कराने की लगातार कोशिश कर रही है। जानकारी के अनुसार, पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई का एक अधिकारी भी इसमें जैश की मदद कर रहा है। इस संबंध में जैश के आतंकी शमशेर वानी और उसके आका के बीच हुई लिखित बातचीत की जानकारी एक विदेशी खुफिया एजेंसी को मिली थी। जिसके बाद यह जानकारी भारतीय खुफिया अधिकारियों तरक पहुंची।

इस जानकारी के अनुसार, आतंकी सितंबर में बड़े आतंकी हमले की योजना बना रहे थे। जानकारी मिलते ही जम्मू, पठानकोट, जयपुर, गांधीनगर और लखनऊ समेत कुल 30 अतिसंवेदनशील शहरों में पुलिस को अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं, एनएसए डोभाल की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा भी की गई है। बता दें कि डोभाल ने बालाकोट में जैश के प्रशिक्षण शिविरों पर एयर स्ट्राइक की रणनीति बनाने में अहम भूमिका निभाई थी। बालाकोट में जैश के ठिकाने पर भारतीय वायुसेना द्वारा हमला कर उसे तबाह कर दिए जाने के बाद से जैश-ए-मोहम्मद बदले की आग में जल रहा है।

पढ़ें: आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने अपना नाम बदला, अब इसके हाथ में है कंट्रोल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here