अफगान से लौटे आतंकियों को ISI ने दी PoK में पनाह, भारत को दहलाने के लिए शिफ्टिंग लॉन्च पैड का ले रहा सहारा

एलओसी (LoC) के अलावा यदि अंतर्राष्ट्रीय सीमा की बात करें‚ तो जम्मू क्षेत्र में भी सीमा पार आतंकवादियों (Militants) की गतिविधियों में पिछले महीने अचानक बढ़ोतरी देखी गई है

Militants

ISI and Pak army prepares movable launch pads for afghan Militants in pok

अफगानिस्तान पर तालिबान के पूर्ण कब्जे से पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई काफी उत्साहित है। आईएसआई भारत के खिलाफ नापाक मंसूबों को अंजाम देने की तैयारी में पूरी तरह जुट गई है। खुफिया रिपोर्ट के अनुसार, आईएसआई (ISI) एक तरफ जहां अफगान से लौटे अपने आतंकवादियों (Militants) को पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में शरण दे रही है‚ तो वहीं भारतीय सुरक्षाबलों की आंख में धूल झोंकने के लिए शिफ्टिंग लॉंचिंग पैड (Movable Terror Camps) तैयार करवाई है। जिससे इन आतंकी लॉंचिंग पैड के स्थान को अपनी सुविधा अनुसार बदल जा सकता है‚ जो भारतीय सुरक्षाबलों के लिए थोड़ा मुश्किल भरा हो सकता है।

पंजाब को दहलाने की नापाक साजिश नाकाम, पुलिस ने हथियार के साथ एक आतंकी को दबोचा

खुफिया सूत्रों के मुताबिक, मौजूदा समय भारत में त्यौहारी सीजन का होता है, देश का अधिकांश हिस्सा त्योहारों के जश्न में डूबने जा रहा है। ऐसे में पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादी त्यौहारों के दौरान अपना खूनी खेल खेलने की तैयारी में हैं। सरहद पार पाकिस्तान ने आतंक के जो नए लांच पैड तैयार किए हैं‚ वह बेहद डरावने और घातक हैं। इन लांच पैड पर फिलहाल करीब 100 से 150 आतंकवादियों (Militants) के होने की जानकारी मिली है।

खुफिया रिपोर्ट के अनुसार, आईएसआई (ISI) ने तालिबानी तरीके को देखते हुए नए लांच पैड पारंपरिक तरीके से अलग कुछ नए स्वरूप में बनाये हैं। इसे आसानी से एक जगह से दूसरी जगह शिफ्ट किया जा सकता है‚ जिससे कि भारतीय सुरक्षाबलों की आंखों में धूल झोंकी जा सके। इन लांच पैड को शिफ्टिंग लांच पैड का नाम दिया गया है‚ जिसे पाक सेना और रेंजर्स ने मिलकर तैयार किया है।

इस रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि सरहद पार पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में इन लांच पैड और उनके लोकेशन की जो जानकारी इंटरसेप्ट हुई है‚ उसके मुताबिक गुरेज सेक्टर के सामने 3 लांच पैड हैं‚ जो तौबत, सोनार और लोसर इलाके में हैं। माछिल सेक्टर में 4 लांच पैड मौजूद हैं।

खुफिया रिपोर्ट के अनुसार, इसी तरह तंगधार सेक्टर में 3 लांच पैड हैं‚ जो जमुआ, मन्दकुली और खरहजना इलाके में हैं। वहीं‚ नवगांव सेक्टर और उरी की तरफ से प्राप्त जानकारी के मुताबिक गबडोनि‚ लीपा और बन्दी एरिया में 4 से 5 लांच पैड की जानकारी मिली है।

खुफिया रिपोर्ट के अनुसार एलओसी (LoC) के अलावा यदि अंतर्राष्ट्रीय सीमा की बात करें‚ तो जम्मू क्षेत्र में भी सीमा पार आतंकवादियों (Militants) की गतिविधियों में पिछले महीने अचानक बढ़ोतरी देखी गई है। पुंछ एरिया की तरफ पाक आतंकवादियों के 5 लांच पैड देखे गए हैं और यहां भी घुसपैठ के लिए आतंकवादियों का जमावड़ा है। सीमापार से घुसपैठ और आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए जिन आतंकी समूहों की सक्रियता देखी जा रही है‚ उनमें लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी सबसे अधिक हैं। आईएसआई और पाक सेना के समर्थन से इस माह जिस तरह आतंकी लांच पैड और उनकी संख्या में बढ़ोतरी हुई है‚ उससे साफ पता चलता है कि पाकिस्तान सीजफायर को कवर फायर के रूप में बनाना चाहता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें