भारतीय जवानों ने BAT की घुसपैठ की नाकाम, देखिए वीडियो

Jammu kashmir, LoC, Pakistan, BAT, terrorist, infiltration, Video, Indian Army, Grenade attack, sirf sach, sirfsach.in
BAT की घुसपैठ की कोशिश को भारतीय सेना ने किया नाकाम ( सांकेतिक तस्वीर)

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान लगातार अपने सैनिक और आतंकियों को कश्मीर में घुसपैठ कराने की कोशिश में जुटा है। 18 सितंबर को सेना के सूत्रों ने बताया कि 12-13 सितंबर को पाक की बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) से कश्मीर में घुसने का प्रयास किया। हालांकि, एलओसी पर तैनात भारतीय जवानों ने उन्हें देख लिया और बैरेल ग्रेनेड लॉन्चर के जरिए बम बरसाकर मार गिराया। PoK के लॉन्चिंग पैड से आतंकियों के घुसपैठ का नया वीडियो सामने आया है जिसमें आतंकी घुसपैठ की कोशिश कर रहे हैं। वीडियो में दिख रहा है कि बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) की ओर से घुसपैठ की कोशिश के दौरान पाकिस्तान के स्पेशल सर्विस ग्रुप (एसएसजी) कमांडो और आतंकियों पर भारतीय सेना ने ग्रेनेड से हमला किया और उनकी कोशिशों को नाकाम कर दिया।

देखें वीडियो-

इससे पहले, पिछले हफ्ते जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में सुरक्षा बलों ने पाकिस्तान सेना की बड़ी साजिश का नाकाम कर दिया था। सुरक्षा बलों ने घुसपैठ की कोशिश कर रहे बैट के 4 से 5 घुसपैठियों को ढेर कर दिया। भारतीय सेना घुसपैठ की कोशिश कर रहे आतंकियों का वीडियो भी जारी किया था।गौरतलब है कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से एलओसी (LoC) के करीब पाक सेना की ओर से कई लॉन्च पैड सक्रिय हो गए हैं। ये लॉन्च पैड नियंत्रण रेखा से कुछ सौ मीटर से 2 किमी की दूरी पर हैं। गुरेज, मच्छल, केरन, तंगधार, उरी, पुंछ, नौशेरा, सुंदरबनी, आरएस पुरा, रामगढ़, कठुआ जैसे क्षेत्रों में इन लॉन्च पैड में 250 से अधिक आतंकवादी हैं।

सूत्रों के मुताबिक, आतंकवादियों की अनुमानित संख्या 150 है। कालीघाटी में कम्युनिकेशन सेंटर को अगस्त की शुरुआत में घुसपैठ कराने के लिए एक्टिव किया गया था। कम्युनिकेशन सेंटर पूरी तरह से सक्रिय है। खबर यह भी है कि पाकिस्तान के पंजाब में आतंकवादियों की भर्ती भी शुरू हो गई है और लश्कर के दाउरा-ए-आम और ऐसी ही ट्रेनिंग जेएमएम ने शुरू कर दी है। ये प्रशिक्षण गतिविधियां मुजफ्फराबाद-मंझेरा-कोटली क्लसटर्स में चल रही हैं। पाक सेना की ओर से आतंकी हाफिज सईद और मौलाना मसूद अजहर को भी यहां पूरा सहयोग दिया जा रहा है।

पढ़ें: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने PoK पर दिया बड़ा बयान, भड़का पाकिस्तान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here