सीजफायर के बाद LoC पर नहीं हुई घुसपैठ, ड्रोन हमले को लेकर आर्मी चीफ ने कही ये बात

आर्मी चीफ (Army Chief) जनरल एम एम नरवणे (General MM Naravane) ने कहा है कि ड्रोन की आसान उपलब्धता ने सुरक्षा चुनौतियों की जटिलताओं को बढ़ा दिया है।

General MM Naravane

General MM Naravane (File Photo)

जनरल नरवणे (General MM Naravane) ने जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर हाल में हुए ड्रोन हमले (Drone Attack) को लेकर किए गए सवाल पर जबाव दिया।

आर्मी चीफ (Army Chief) जनरल एम एम नरवणे (General MM Naravane) ने कहा है कि ड्रोन की आसान उपलब्धता ने सुरक्षा चुनौतियों की जटिलताओं को बढ़ा दिया है। साथ यही यह भी कहा कि भारतीय सेना इस तरह के खतरों से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए क्षमता विकसित कर रही है। वे 1 जुलाई को एक थिंक टैंक को संबोधित कर रहे थे।

जनरल नरवणे ने कहा, ”हम उस खतरे से निपटने के लिए क्षमताएं विकसित कर रहे हैं, चाहे ये खतरे देश प्रायोजित हो या खुद देशों ने पैदा किए हो। हम ड्रोन के खतरों से निपटने की तैयार कर रहे हैं।” जनरल नरवणे (General MM Naravane) ने जम्मू के वायुसेना के एयरस्टेशन पर हाल में हुए ड्रोन हमले को लेकर किए गए सवाल पर जबाव दिया।

Go Green: तमिलनाडु में CISF के जवानों ने लगाए 850 पौधे, देखें PHOTOS

जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर हालात पर सेना प्रमुख ने कहा कि भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच फरवरी में हुए संघर्ष विराम समझौते के बाद नियंत्रण रेखा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई। उन्होंने कहा कि कोई घुसपैठ न होने के कारण कश्मीर में आतंकवादियों की संख्या कम है और आतंकवाद से संबंधित घटनाएं भी कम हुई हैं।

ये भी देखें-

आर्मी चीफ ने जम्मू कश्मीर को लेकर कहा कि ऐसे तत्व हमेशा रहेंगे जो शांति एवं विकास की प्रक्रिया को बाधित करने की कोशिश करेंगे, हमें इसका ध्यान रखना है। सेना प्रमुख ने कहा, ”हमारा जम्मू कश्मीर में आतंकवाद रोधी और घुसपैठ रोधी मजबूत तंत्र है, शांति, सामंजस्य सुनिश्चित करने का हमारा अभियान जारी रहेगा।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें