विवाद भुलाकर Indian Army ने नेपाल को दी ये सौगात, कोरोना से जंग में मिलेगी मदद

नेपाल में इस बीमारी से अबतक 75 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 22972 लोग संक्रमित हो चुके हैं।

Pakistan

सांकेतिक तस्वीर

नेपाल से जारी विवाद के बीच भारत ने मानवता दिखाते हुए नेपाल को 10 वेंटीलेटर सौंपे हैं। भारतीय सेना ने रविवार को नेपाली सेना को कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ उसके संघर्ष में सहयोग पहुंचाने के लिए 10 वेंटीलेटर भेंट किए।

नेपाल (Nepal) में इस बीमारी से अबतक 75 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 22972 लोग संक्रमित हो चुके हैं। भारतीय सेना ने यह जानकारी दी कि नेपाल में भारत के राजदूत विनय मोहन क्वात्रा ने रविवार को नेपाली सेना के मुख्यालय में एक कार्यक्रम के दौरान वहां के सेना प्रमुख पूर्ण चंद्र थापा को वेंटीलेटर सौंपे।

ये सघन चिकित्सा की जरूरत वाले मरीजों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने में सहायक हैं। भारतीय सेना लंबे समय से मानवीय सहायता और राहत देने के लिए पहली प्रतिक्रिया के रूप में नेपाली सेना के लिए आगे आती रही है। वेंटिलेटर का गिफ्ट देना दो सेनाओं के बीच निरंतर मानवीय सहयोग का हिस्सा है।

ये भी पढ़ें- केरल विमान हादसा: मृत पायलट दीपक वसंत साठे के पास था 10 हजार घंटे से ज्यादा उड़ान का अनुभव, जानें पूरी स्टोरी

बता दें कुछ दिन पहले ही नेपाल ने भारतीय सेना में गोरखाओं के भर्ती होने पर आपत्ति जताई थी। नेपाल अब भारतीय सेना में गोरखा सैनिकों के भर्ती को लेकर किए गए समझौते की समीक्षा करने जा रहा है। नेपाली विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ज्ञावली ने कहा कि इस समझौते के कुछ प्रावधान संदिग्ध हैं इसलिए 1947 का यह समझौता निरर्थक हो गया है।

नेपाल में पहले भी गोरखाओं के भारतीय सेना में शामिल होने पर रोक की मांग उठ चुकी है। भारतीय सेना का नेपाली सेना को सबसे पहले मानवीय सहायता और राहत प्रदान करने का पुराना रिकॉर्ड रहा है। ये वेंटीलेटर दोनों सेनाओं के बीच इस निरंतर सहयोग के तहत दिए गए हैं। राजदूत क्वात्रा ने वेंटिलेटर हैंडओवर करने के दौरान कोरोना महामारी के संकट काल में नेपाल के लोगों को सभी जरूरी चीजों की मदद देने की भारत की समर्पण की फिर से पुष्टि की।

ये भी देखें- 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें