India China Clash: पैंगोंग लेक के उस पार चीन कर रहा है बड़ी तैयारी, LAC पर हो रही ये हलचल

चीन की उकसावे भरी कार्रवाई के बाद भारतीय सेना (Indian Army) ने अपने ऑन ग्राउंड ऑफिसर्स को सख्त निर्देश दिया है कि किसी भी हालत में चीनी सैनिकों को LAC का उल्लंघन नहीं करने दें।

PLA Troops

India China Border Tension

India China Border Tension: पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग लेक के दक्षिण में जहां भारत ने प्रभुत्व जमा रखा है‚ चीन (China) ने लेक के उत्तरी क्षेत्र में स्थित फिंगर एरिया में जवानों  (PLA Troops) को तैनात कर दिया है और सैन्य साजो-सामान का जमावड़ा शुरू कर दिया है। इससे पहले 7 सितम्बर को लेक के दक्षिणी किनारे में दोनों सेनाओं के बीच झड़प हुई थी और दोनों तरफ से हवाई फायरिंग की गई थी।

पाकिस्तान ने बॉर्डर पर की अपने बेहद खतरनाक एसएसजी कमांडो की तैनाती, 400 आतंकियों की घुसपैठ की फिराक में पाक सेना

चीन (China) तनाव वाले इलाके में मंगलवार शाम से ही पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के जवानों (PLA Troops) की संख्या को बढ़ाया जा रहा है। चीन यहां ज्यादा सामग्री और लॉजिस्टिक भी इकट्ठा कर रहा है। चीनी सैनिक लगातार फिंगर 4 के रिजलाइन पर बने हुए हैं। लेक का दक्षिणी किनारा आठ फिंगरों में बंटा हुआ है‚ जिसपर दोनों देश दावा करते रहे हैं। भारत एलएसी (LaC) के पास फिंगर 8 पर अपना दावा करता है और फिंगर 4 भी भारत के पास था‚ लेकिन यथास्थिति को बदलने के लिए चीन फिंगर 4 के पास डेरा डाले हुए है और फिंगर 5 और फिंगर 8 पास सेना साजोसामान से लैस है।

भारतीय सेना पैंगोंग लेक के दक्षिणी किनारे में महत्वपूर्ण ऊंचाईयों पर तैनात है और चीनियों ने भारत से इस क्षेत्र को हथियाने के लिए कई प्रयास किए हैं। यहां भारतीय सेना (Indian Army) बढ़त की स्थिति में दिख रही है।

चीन (China) को जवाब देने के लिए भारत ने भी सैनिकों की संख्या बढ़ाई

सूत्रों के अनुसार भारत ने भी पैंगोंग लेक के पास चीन (China) की तैनाती और उसके खतरे का जवाब देने के लिए फॉरवर्ड पोजीशन पर जवानों की संख्या में पर्याप्त इजाफा किया है। करीब चार दशकों बाद एलएसी पर गोली चलने और चीन की उकसावे भरी कार्रवाई के बाद भारतीय सेना (Indian Army) ने अपने ऑन ग्राउंड ऑफिसर्स को सख्त निर्देश दिया है कि किसी भी हालत में चीनी सैनिकों को एलएसी का उल्लंघन नहीं करने दें। सोमवार को चुशुल के मुखपरी टॉप के पास चीनी जवानों (PLA Troops) ने एलएसी की उल्लंघन करते हुए हवाई फायरिंग की थी। घटना के अगले दिन यानी मंगलवार को पीएलए के सैनिकों की खतरनाक हथियारों के साथ तस्वीरें भी सामने आई थीं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें