भारत के खिलाफ समर्थन जुटाने की पाकिस्तान की एक और कोशिश, इमरान खान ने की सऊदी प्रिंस से मुलाकात

कश्मीर पर पाकिस्तान की बौखलाहट, कश्मीर पर इमरान खान का बयान, इमरान पर मुस्लिम देशों का रुख, इमरान खान का सऊदी दौरा, सिर्फ सच, muslim countries on kashmir, Imran khan on Kashmir, imran khan in saudi arbia, sirf sach, sirfsach.in
इमरान खान सऊदी अरब की दो दिवसीय यात्रा पर जेद्दा पहुंचे हैं।

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान की वैश्विक स्तर पर समर्थन जुटाने की कोशिश जी जान से जारी है। इसी सिलसिने में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने 19 सितंबर को जेद्दा में सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की। उन्होंने सऊदी प्रिंस को भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किये जाने के बाद राज्य के हालात के बारे में बताया। हालांकि, इस पर सऊदी अरब की ओर से क्या प्रतिक्रिया आई, यह अब तक पता नहीं चल सका है। वैसे, सऊदी ही नहीं बल्कि तमाम प्रमुख मुस्लिम देश कश्मीर मुद्दे पर क्या सोचते हैं, इसका खुलासा पाकिस्तान दौरे पर आए सऊदी और यूएई के विदेश मंत्रियों की नसीहत में हो चुका है।

एक पाकिस्तानी अखबार के मुताबिक, अखबार के मुताबिक, सऊदी और यूएई को विदेश मंत्रियों ने प्रधानमंत्री इमरान खान, विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से मुलाकात की और उनसे भारत के साथ बैकडोर डिप्लॉमसी शुरू करने की नसीहत दी थी। इतना ही नहीं, उन्होंने खासकर इमरान खान से कहा कि वो भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी के लिए तल्ख भाषा का इस्तेमाल नहीं करें। बता दें कि, इमरान खान सऊदी अरब की दो दिवसीय यात्रा पर जेद्दा पहुंचे हैं। सऊदी अरब पाकिस्तान का करीबी सहयोगी है और आर्थिक संकट में उसे वित्तीय सहायता दे रहा है।

पढ़ें: झारखंड में ED की बड़ी कार्रवाई, 2 नक्सलियों की करोड़ों की संपत्ति जब्त

पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ पार्टी के आधिकारिक ट्विटर खाते से जारी बयान में पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के नयी दिल्ली के फैसले के बाद कश्मीर में भारत सरकार द्वारा अत्याचार किये जाने का आरोप लगाया गया और बताया गया कि खान ने इस बारे में सऊदी के शहजादे से बातचीत की। प्रधानमंत्री खान कश्मीर के मुद्दे पर सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान के साथ नियमित संपर्क में हैं। भारत की कूटनीतिक घेराबंदी के कारण पाकिस्तान पूरी दुनिया में अलग-थलग पड़ चुका है। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान एक बार फिर उम्मीद ले सऊदी अरब पहुंचे हैं।

दरअसल, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कश्मीर मुद्दे पर दुनिया का साथ पाने के लिए हर तरह का तिकड़म भिड़ा चुके हैं। पाकिस्तान की सरकार, मीडिया, डिप्लोमेट्स या यूं कहें कि पूरा तंत्र जब भारत के खिलाफ समर्थन जुटाने में नाकामयाब रहा तो इमरान खान ने एक बार फिर से सऊदी अरब का रुख किया है। सऊदी अरब के नेताओं से बातचीत के बाद खान न्यूयॉर्क के लिए रवाना होंगे जहां वह संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र में भाग लेंगे। उन्होंने वहां कश्मीर मुद्दा उठाने की बात कही है।

पढ़ें: राकेश कुमार सिंह भदौरिया बने भारतीय वायुसेना के नए चीफ, बीएस धनोआ की लेंगे जगह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here