दिल्ली में बेकाबू कोरोना से निपटने के लिए केजरीवाल सरकार ने मांगी सेना की मदद

दिल्ली सरकार के वरिष्ठ वकील राहुल मेहरा ने केंद्र से आग्रह किया है कि अगर सेना (Indian Army) 10 हजार बेड के साथ कोरोना रोगियों के लिए चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाए तो वह आभारी होगी।

Indian Army

सांकेतिक तस्वीर

दिल्ली में कोरोना (Coronavirus) के बिगड़ते हालात को देखते हुए दिल्ली सरकार ने रक्षा मंत्रालय से मदद मांगी है। उसने मरीजों के इलाज के साथ क्रायोजेनिक टैंकर की आपूर्ति‚ ऑक्सजीन युक्त और आईसीयू बेड के साथ अस्पतालों को बनाने में सेना (Indian Army) से मदद की गुहार लगाई है।

कोरोना के खिलाफ जंग जारी, भारतीय सेना ने साझा की कविता, ‘सूर्य को उगना पड़ेगा, फूल को…’

वहीं दिल्ली व उसके आसपास के इलाकों के मरीजों को अबाध ऑक्सीजन की आपूर्ति करने को लेकर ऑक्सीजन की पूरी व्यवस्था सेना (Indian Army) के हवाले करने की मांग की गई है और इस बाबत याचिका दाखिल की गई है। जज विपिन सांघी व जज रेखा पल्ली की पीठ ने इस मुदे पर केंद्र सरकार से जवाब मांगा है।

दिल्ली सरकार ने पीठ को सूचित किया है कि दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर सेना (Indian Army) के सहयोग का आग्रह किया है और इस पर अमल करने में एक–दो दिनों का वक्त लग जाएगा।

दिल्ली सरकार के वरिष्ठ वकील राहुल मेहरा ने केंद्र से आग्रह किया है कि अगर सेना (Indian Army) 10 हजार बेड के साथ कोरोना रोगियों के लिए चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाए तो वह आभारी होगी।

केंद्र की ओर से अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल चेतन शर्मा ने निर्देश प्राप्त करने और हाईकोर्ट को सूचित करने के लिए समय मांगा है। पीठ ने कहा कि हम केंद्र को निर्देश देते हैं कि दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री द्वारा रक्षा मंत्री को लिखे गए पत्र के बारे में निर्देशों से अवगत कराएं।

वरिष्ठ वकील कृष्णन वेणुगोपाल ने कहा कि क्या दिल्ली सरकार भी स्थानीय कमांडरों से अनुरोध कर सकती है‚ जो दिल्ली के प्रभारी हैं ताकि समन्वय का समय कम लगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें