नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

झारखंड के दुमका (Dumka) जिले में पुलिस ने नक्सलियों की एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। एसएसबी  और जिला पुलिस के जवानों ने छापामारी करते हुए गोपीकांदर थाना क्षेत्र के महुआगंज पहाड़ से छिपाकर रखे गए विस्फोटकों का जखीरा बरामद किया है। इस विस्फोटक को नक्सलियों ने पुलिस बल पर हमला करने के लिए छिपाकर रखा था।

इतिहास में आज का दिन – 13 अक्टूबर 

Dumka

झारखंड के दुमका (Dumka) के गोपीकांदर थाना के महुआगड़ी पहाड़ों पर सुरक्षाबलों की छापेमारी के दौरान 17 केन बम, एक ग्रेनेड, एक बंडल तार, पिठ्ठू और नक्सली साहित्य सहित कई अन्य सामान भी बरामद किया। दुमका पुलिस मुताबिक गुप्त सूचना मिली थी कि नक्सलियों ने पास के घंगलों में भारी मात्रा में विस्फोटक छुपा कर रखा हुआ है। जिसके बाद एसएसबी और पुलिस के जवानों ने संयुक्त रूप से पूरे जंगल में सर्च अभियान चलाया। इसी क्रम में सुरक्षाबलों के हाथों विस्फोटक बरामद किया गया। सुरक्षाबलों ने तत्काल विस्फोटकों को डिफ्यूज कर दिया। हालांकि अभी भी जंगल में नक्सलियों के तलाश में सर्च अभियान जारी है और अभी तक किसी भी नक्सली की गिरफ्तारी नहीं की जा सकी है।

नारद मुनि की प्रेरणा से खूंखार डाकू बना महर्षि वाल्मीकि, प्रभु श्रीराम से हुई भेंट

गौरतलब है कि इस साल की शुरुआत में ही 13 जनवरी को पुलिस मुठभेड़ में कुख्यात नक्सली ताला मरांडी को मार गिराया था। ताला मरांडी नक्सलियों का एरिया कमांडर था और उस पर सरकार ने 10 लाख का इनाम घोषित कर रखा था और उस पर हत्या, फिरौती समेत कुल 50 मामले दर्ज थे। ताला मरांडी के मौत से बौखलाए नक्सली पुलिस से बदला लेने के फिराक में हैं। इसी क्रम में नक्सलियों ने इन हथियारों को जंगल में छिपाकर रखा था। जिसे बरामद करके सुरक्षाबलों ने नक्सलियों के मंसूबे पर पानी फेर दिया है।

छत्तीसगढ़: Dantewada से नक्सलियों ने दो इंजीनियर्स सहित तीन लोगों को अगवा किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here