अमेरिका में भयंकर आगजनी और उपद्रव, हिंसा रोकने के लिए राष्ट्रपति ट्रंप ने सेना उतारने की दी धमकी

इस पूरे घटनाक्रम से बौखलाए राष्ट्रपति ट्रंप (Donald Trump) ने अमेरिका (America) के मुख्य शहरों में हो रहे हिंसक प्रदर्शनों को तुरंत रोकने की बात कहते हुए अपने राज्यों के गवर्नरों को ये आदेश दिया है कि वो नेशनल गार्ड के जवानों की तैनाती करके हिंसा को काबू करने का प्रयास करें और यदि वो ऐसा नहीं करते तो मजबूरन उन्हें सेना की तैनाती करनी पड़ेगी।

Donald Trump warns to stop protest

Donald Trump warns to stop protest

अफ्रीकी मूल के अमेरिकी नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड़ की पुलिस हिरासत में मौत को लेकर हो रहे हिंसक प्रदर्शनों के छठे दिन अमेरिका (America) में आक्रोश एवं भावनाएं उबाल पर हैं। इन हिंसक प्रदर्शनों में अब तक कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है‚ हजारों लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है और करीब 40 शहरों में कर्फ्यू लगाया गया है। बोस्टन में पुलिस की एसयूवी को स्टेट हाउस के पास आग के हवाले कर दिया गया।

अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) और उनके परिवार के सदस्यों को व्हाइट हाउस के सामने प्रदर्शन के बीच एक घंटे के लिए भूमिगत बंकल में ले जाया गया था। व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने खुद मीडिया को ये जानकारी मुहैया कराई है। सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप (Donald Trump) और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप (Donald Trump) और पुत्र बरोन को एक भूमिगत बंकर में करीब एक घंटे तक रहना पड़ा था।

अब ये आतंकी खोलेगा ‘पुलवामा 2’ हमले का राज! कहां से आया विस्फोटक और कहां करता था काम?

इस पूरे घटनाक्रम से बौखलाए राष्ट्रपति ट्रंप (Donald Trump) ने अमेरिका (America) के मुख्य शहरों में हो रहे हिंसक प्रदर्शनों को तुरंत रोकने की बात कहते हुए अपने राज्यों के गवर्नरों को ये आदेश दिया है कि वो नेशनल गार्ड के जवानों की तैनाती करके हिंसा को काबू करने का प्रयास करें और यदि वो ऐसा नहीं करते तो मजबूरन उन्हें सेना की तैनाती करनी पड़ेगी। डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि कोई भी शहर या राज्य में अमेरिकी लोगों की जान और प्रॉपर्टी को बचाने के लिए यदि जरूरी कदम नहीं उठायेगा तो मैं अमेरिकी सेना तैनात करूंगा और अपने अमेरिकी लोगों की इस समस्या का फौरन समाधान करूंगा।

अमेरिका (America) में पिछले कई दशकों में अब तक के सबसे बड़ी नागरिक अशांति माने जा रहे यह हिंसक प्रदर्शन फ्लॉयड़ की मौत के बाद अमेरिका (America) में कम से कम 140 शहरों तक फैल गए हैं। कुछ प्रदर्शनों के हिंसक रूप ले लेने के बाद कम से कम 20 राज्यों में नेशनल गॉर्ड़ के सैनिकों की तैनाती कर दी गई है।

प्रधानमंत्री ने CII के वार्षिक सत्र में दिया 5-I का फॉर्मूला

वाशिंगटन पोस्ट ने खबर दी‚ ‘देश के कई हिस्सों में प्रदर्शनों के उपद्रव का रूप ले लेने के बाद कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई।’ खबर में बताया गया कि पुलिस ने पिछले सप्ताह में दो दर्जन अमेरिकी शहरों से कम से कम 2,564 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से 20 प्रतिशत गिरफ्तारी लॉस एंजिलिस में हुई हैं।

अमेरिका (America) में छाई इस हिंसा की शुरुआत में मिनेसोटा के मिनीपोलिस से शुरू हुई थी लेकिन अब पूरे देश में फैल चुकी है जहां लॉस एंजिलिस‚ शिकागो‚ न्यूयॉर्क‚ ह्यूस्टन‚ फिलेड़ेल्फिया और वाशिंगटन ड़ीसी समेत बड़़े शहरों से हिंसा की खबरें आ रही हैं।

न्यूयॉर्क टाइम्स की खबर में कहा गया‚ ‘अमेरिका (America) में पुलिस के हाथों एक और अश्वेत व्यक्ति की हत्या के बाद से राष्ट्रव्यापी अशांति के 7वें दिन सोमवार को भी भावनाओं‚ आक्रोश और जारी हिंसा की विस्फोटक स्थिति बनी हुई है।’

यह भी पढ़ें